Coronavirus:देश में पांचवीं मौत,मुंबई सहित 4 शहर बंद

देश में पांचवीं मौत

नई दिल्ली : देश में कोरोनावायरस से पांचवीं मौत राजस्थान में हुई है। शुक्रवार को 69 साल के इटली के नागरिक एंड्री कार्ली ने दम तोड़ दिया। वे यहां 16 लोगों के समूह में भारत घूमने आए थे। ये सभी संक्रमित पाए गए थे। एंड्री की पत्नी जयपुर में और समूह के बाकी 14 सदस्य हरियाणा के मानेसर में क्वारैंटाइन किया गया है। संक्रमितों की संख्या भी आज तेजी से बढ़ी है और यह 206 हो गई है। महाराष्ट्र में 3, उत्तर प्रदेश में 4, तेलंगाना में 2, पश्चिम बंगाल और आंध्र प्रदेश में 1-1 मामले सामने आए हैं। महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने कहा है कि राज्य में लॉकडाउन किया जा सकता है। मुंबई में दो मरीज वेंटीलेटर पर हैं। उनकी हालत नाजुक है।

 

आंध्र प्रदेश में 3, दिल्ली में 12, हरियाणा में 17, कर्नाटक में 15, केरल में 28, महाराष्ट्र में 49, पंजाब में एक, राजस्थान में 9, तमिलनाडु में 3, तेलंगाना में 16, जम्मू-कश्मीर में 4, लद्दाख में 8, उत्तर प्रदेश में 23, उत्तराखंड में 3, ओडिशा में 2, गुजरात में 2, पश्चिम बंगाल में 2, चंडीगढ़ में एक, पुदुचेरी में एक और छत्तीसगढ़ में एक मरीज सामने आए हैं.
कोरोना की चपेट में आकर अभी तक चार लोग जान गंवा चुके हैं. पहली मौत कर्नाटक के कलबुर्गी में हुई थी. उसके बाद दूसरी मौत दिल्ली के राम मनोहर लोहिया अस्पताल में हुई. तीसरी मौत मुंबई के कस्तूरबा अस्पताल में हुई और चौथी मौत कल यानी गुरुवार को पंजाब में हुई है. खास बात है कि जिन चारों की मौत हुई है, उनकी उम्र 60 साल से अधिक थी. इसके अलावा शुक्रवार यानी आज राजस्थान में एक इतालवी नागरिक की मौत हो गई है. उसका कई दिनों से इलाज चल रहा था.
लखनऊ के केजीएमयू में कोरोना के 9 मरीजों का इलाज चल रहा है. अगर जिलेवार पॉजिटिव मरीजों की संख्या देखी जाए तो 8 लोग लखनऊ के हैं, जबकि एक मरीज लखीमपुर खीरी का है. इस समय केजीएमयू में कुल 9 कोरोना के पॉजिटिव मरीज भर्ती है, जिसमें यूरोप से लौटे एक परिवार के 3 लोग भी शामिल हैं. आज जो चार पॉजिटिव केस आए है, उसमें 2 महिलाएं, 20 और 28 साल की है, जबकि पुरुष 35 और 37 साल के हैं.मुं

बई सहित 4 शहर बंद 

भारत में कोरोना वायरस तेजी से फैल रहा है. इस बीच महाराष्ट्र की सरकार ने कोरोना वायरस को देखते हुए बड़ा फैसला किया है. उद्धव ठाकरे सरकार ने चार शहरों पुणे, पिम्परी, चिंचवाड़, मुंबई और नागपुर को पूरी तरह से बंद करने का फैसला किया है. इन शहरों में सबकुछ 31 मार्च तक बंद रहेगा।

हालांकि सरकार का कहना है कि लॉकडाउन से घबराने की जरूरत नहीं है क्योंकि सभी आवश्यक सेवाएं जारी रहेंगी. इन चारों शहरों के सरकारी दफ्तरों में सिर्फ 25 कर्मचारी काम करेंगे. आइए जानते हैं कि इन शहरों में कौन-कौन सी चीजें मिलती रहेंगी.

दरअसल, बताया जा रहा है कि ऐहतियातन यह कदम उठाया गया है. क्योंकि जितने कम लोग इकठ्ठा होंगे, उतनी ही सतर्कता बढ़ेगी और संक्रमण का खतरा कम रहेगा. इस दौरान जरूरी सेवाएं पहले की तरह जारी रहेंगे, जबकि बाकी चीजें बंद रहेंगी.

मुंबई की लाइफलाइन कही जाने वाली लोकल ट्रेनें चलती रहेंगी. हालांकि यह देखने को मिला है कि पिछले कुछ दिनों से लोकल ट्रेनों में बहुत कम लोग सफर कर रहे हैं.

 

खाने और राशन की दुकानें खुली रहेंगी:

इन शहरों में खानपान यानी राशन की दुकाने खुली रहेंगी. इसलिए ज्यादा पैनिक होने की जरूरत नहीं है. क्योंकि डेली यूज के काम में आने वाली सभी दुकानें खुली रहेंगी.

 

दवाई:

एक यह सबसे जरूरी चीज है, जो हमेशा उपलब्ध रहेगी. मेडिकल स्टोर्स और दवा की अन्य दुकानें खुली रहेंगी.

,
Shares