CORONA:भोपाल में एक दिन में 325 नए मामले सामने आए

भोपाल में दीपावली के बाद कोरोना का बम फूट गया है। शहर में एक दिन में कोरोना के 325 नए मामले सामने आए हैं, जो एक रिकॉर्ड है। इससे पहले कभी शहर में कोरोना के इतने अधिक मरीज एक दिन में नहीं मिले। पिछले एक सप्ताह की बात करें तो हर दिन 150 से 200 के बीच कोरोना के नए मरीज मिले हैं। कोरोना मरीजों की बढ़ती हुई संख्या को देखते हुए लगता यही है कि प्रशासन के इंतजाम नाकाफी साबित हो रहे है। शहर में खुलेआम आज भी लोग बिना मास्क के घूमते हुए नजर आ रहे हैं। त्योहार के समय बाजारों में भीड़ इतनी रही कि लोगों ने सुरक्षित शरीरिक दूरी के नियमों का पालन करना भी मुनासिब नहीं समझा। इसका नतीजा अब सामने आया है। ताजा आंकड़ों को मिलाकर अब शहर में संक्रमित मरीजों की संख्या 28 हजार 426 हो गई है। अब भी प्रशासन नहीं चेता तो स्थिति और भी गंभीर हो सकती है। बता दें कि बुधवार को भी राजधानी में 236 नए मरीज मिले थे। कोरोना मरीजों की तेजी से बढ़ती तादाद को देखते हुए कलेक्‍टर अविनाश लवानिया ने सैंपलिंग बढाने के निर्देश दिए है।

 

इधर, कोरोना मरीजों की बढ़ती हुई संख्या को देखते हुए प्रशासन अब और अधिक सख्ती बरतने की तैयारियां कर रहा है। बिना मास्क कोई भी व्यक्ति सड़क पर घूमता पाया जाएगा तो उसके खिलाफ चालानी कार्रवाई की जाएगी। इतना ही नहीं, बाजारों में भी सुरक्षित शरीरिक दूरी के नियमों का पालन करवाया जाएगा। कोरोना पॉजिटिव मरीज के घरों को कंटेनमेंट क्षेत्र घोषित किया जाएगा और स्क्रीनिंग व सैंपलिंग भी बढ़ाई जाएगी।

 

इधर कोरोना के मरीज लगातार मिल तो रहे हैं, लेकिन अब अधिकांश मरीज घर में आइसोलेशन में अपना इलाज ले रहे हैं। इसके चलते अस्‍पतालों में मरीजों की भीड भी कम हो रही है। इधर तेजी से मरीज स्‍वस्‍थ भी हो रहे हैं। इसके चलते राजधानी के हमीदिया अस्‍पताल और टीबी अस्‍पताल में 516 बिस्‍तर कोरोना मरीजों के लिए खाली हैं। हमीदिया के कोविड केयर सेंटर में 150 आईसीयू बेड में से 37 ही भरे हुए है, वहीं 113 बिस्‍तर रिक्‍त है। इसी तरह 400 एचडीयू बिस्‍तर में से 23 भरे और 377 खाली हैं। ऑक्‍सीजन सुविधायुक्‍त 10 बिस्‍तर में से 10 ही रिक्‍त हैं। ऑक्‍सीजन सुविधा रहित 40 सामान्‍य बेड में से 24 भरे हुए हैं और 16 रिक्‍त हैं।

,
Shares