महिला एवं उसके मासूम बालक के अंधे कत्ल का पर्दाफाश, आरोपी पुलिस थाना कनाडिया की गिरफ्त में

 

 

महिला एवं उसके मासूम बालक के अंधे कत्ल का पर्दाफाश, आरोपी पुलिस थाना कनाडिया की गिरफ्त में

बिचौली मर्दाना तालाब से मिली थी अज्ञात महिला व बच्चे की लाश

इंदौर- दिनांक 23 नवंबर 2020- पुलिस थाना कनाडिया क्षेत्र अंतर्गत दिनांक 17/11/20 को ग्राम बिचोली मर्दाना तालाब में एक बालक उम्र 2-3 वर्ष की लाश तथा दिनाक 18/11/20 को एक अज्ञात महिला की लाश तालाब में तैरती हुई मिली थी। जिस पर थाना कनाडिया पर मर्ग क्र. 43/20 व 44/20 धारा 174 जा.फौ. का कायम कर जाच में लिया गया। जाच के दौरान पाया कि मृतिका के गले में टाईट रस्सी बधी हुई है। जिस पर दोनों शवो का पंचनामा कर पीएम कराया गया जिसमें मृतिका जिसकी उम्र करीब 25 वर्ष हैं, की मौत गले में बंधी रस्सी से होना पाया गया। जिस पर से थाना कनाडिया पर अप.क्र . 524/20 धारा 302,201 भादवि का अज्ञात आरोपी के विरुध पजीबद्ध किया जाकर विवेचना में लिया गया।

उक्त घटनाओं की गंभीरता को दृष्टिगत रखते हुए पुलिस महानिरीक्षक इंदौर ज़ोन महोदय  योगेश देशमुख एव पुलिस उप महानिरीक्षक इंदौर शहर  हरिनारायणचारी मिश्र दवारा उक्त प्रकरण का अविलम्ब खुलासा कर कार्यवाही हेतु पुलिस को निर्देशित किया गया। जिसके पालन में  पुलिस अधीक्षक पूर्व  विजय खत्री व अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक जोन-2 श्री राजेश रधुवशी एवं नगर पुलिस अधीक्षक खजराना  अनिल सिंह राठौर के मार्गदर्शन में थाना प्रभारी कनाडिया एवं उनकी टीम दवारा लगातार विवेचना करते हुए प्रयास करने पर उक्त दोनो मृतको से सम्बंधित लोगो की खोजबीन की गई।

विवेचना के दौरान पुलिस टीम ने पाया कि उक्त महिला मानसिक विक्षिप्त थी तथा मृतक बालक उसका पुत्र था, तथा इन दोनों के साथ में तीन अन्य लोग और थे जिसमें एक पुरुष करीब 35 साल का जिसका कद लम्बा, सिर पर बाल कम जो लखानी टच के खाकी रंग के जूते पहने हुए है तथा एक महिला जिसकी उम्र करीब 35 साल जिसका कद ठिगना तथा एक बालक जिसकी उम करीब 8-10 साल के साथ में देखे गए थे। जिस पर घटना स्थल के आसपास के सी.सी टी व्ही फुटेज तलाश किये जिसमें उक्त महिला व उसका तीन साल का बालक व एक अन्य पुरुष, महिला व बच्चे के साथ में ( पूर्व में बताए हुलिय के साथ) दिखाई दिये। उक्त फुटैज के आधार पर उक्त संदिग्धों के पमप्लेटस तैयार किये जाकर इंदौर शहर व आसपास के क्षेत्रों में बाटे गये । उक्त पमप्लेट के आधार पर एक व्यक्ति द्वारा उक्त हुलिये के दो लोग व एक बच्चे के तेजाजी नगर चौराहे पर होने की पुलिस को सूचना दी गई। जिस पर तेजाजी नगर के बीट इयूटी में लगे आर . 1871 अकित व आर . 1987 जगमोहन को उक्त व्यक्तियों को थाने लाकर बैठाया गया जिन्हें पुलिस थाना कनाडिया द्वारा अपने अभिरक्षा में लेकर पुछताछ की गई तो आरोपी युवक द्वारा अपना नाम भैयालाल पिता सुन्दरलाल जाति लोधा उम 35 साल निवासी निवासी ग्राम महुगड़ा जिला गुना का होना बताया। पूछताछ में उसने बताया कि वह अपनी पत्नी रानी तथा बेटा राहुल के साथ घूम फिर कर भीख मांगकर जीवन यापन करता था, तो उसे गायत्री नाम कि अर्ध विक्षिप्त महिला तथा उसका ढाई वर्ष का बच्चा, जो उसे गुना में मिले थे जिन्हें साथ में लेकर साथ में भीख मांगने के लिये रख लिया था। और लगभग एक माह से वो उसके साथ में थे।
घटना दिनाक को रात्री में करीबन 10-11 बजे उक्त मृत्तिका गायत्री तथा आरोपी भैयालाल के बीच झगड़ा हो गया और भैयालाल दवारा उक्त महिला गायत्री का गला उसी के पेटीकोट के नाड़े से बाधकर हत्या कर दी तथा महिला को धर्मशाला के पास ही तालाब मे फैक दिया तथा लौटकर आकर उक्त महिला के ढाई वर्षीय वर्षीय बालक को भी गला पकड़कर तालाब में फेंक दिया तथा वहां से रात्रि मे ही भाग गये । पुलिस द्वारा आरोपी को गिरफ्तार किया गया है जिससे घटना के संबंध में और उस जांच की जा रही है।

उक्त उक्त कार्यवाही में वरिष्ठ अधिकारियों के मार्गदर्शन में थाना प्रभारी कनाडिया आर.डी. कानवा उनि रितेश यादव , आर नीरज गुर्जर , आर . मुजफ्फर , तथा याना तेजाजी नगर के आर . 1871 अकित भार , 1987 जगमोहन की महत्वपूर्ण भूमिका रही। उक्त सराहनीय कार्य करने वाली टीम को पुलिस उप महानिरीक्षक महोदय द्वारा नगद पुरस्कार से पुरस्कृत करने की घोषणा की गई है।

,
Shares