भोपाल: सेक्स रैकेट में टीएमसी के प्रदेश अध्यक्ष रंगेहाथों गिरफ्तार

 

 

  • भोपाल में सेक्स रैकेट का भंडाफोड़, मुख्य आरोपी तृलमूल कांग्रेस का प्रदेश अध्यक्ष सचिन चौहान है 
  • आरोपी क्लीनिक भी बिना लाइसेंस के चला रहा था, पुलिस ने पुख्ता जानकारी के बाद की कार्रवाई

भोपाल। मध्यप्रदेश में सेक्स रैकेट का खुलासा हुआ है, जिसमें टीएमसी यानी तृणमूल कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष सचिन चौहान समेत कई लोगों को अरेस्ट किया गया है। इस सेक्स रैकेट मामले में पकड़े गए टीएमसी के प्रदेश अध्यक्ष सचिन चौहान ममता बैनर्जी की करीबी हैं। यहां तक कि उनके राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बनाए जाने के कयास लग रहे थे। सचिन चौहान की रीयल एस्टेट कारोबारी के रूप में भी पहचान है। बहरहाल, मामले में पुलिस कार्रवाई कर रही है।

आरोपी गुप्त रोगों की दुकान और क्लीनिक की आड़ में सेक्स रैकेट चला रहे थे, क्लीनिक का संचालन भी बगैर रजिस्ट्रेशन के हो रहा था। क्राइम ब्रांच ने इस मामले में 4 महिलाओं समेत 10 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। पकड़े गए आरोपियों का सरगना तृणमूल कांग्रेस का प्रदेश अध्यक्ष सचिन चौहान है, जो भोपाल के बरखेड़ी इलाके में क्लीनिक की आड़ में सेक्स रैकेट चला रहा था।

मंगलवार को जानकारी पुख्ता हो जाने के बाद क्राइम ब्रांच ने आरोपी सचिन चौहान द्वारा चलाए जा रहे सेक्स रैकेट पर छापा मारा। गिरफ्तार लोगों में सचिन चौहान के अलावा बाड़ी बरेली का पूर्व सरपंच इरफान खान भी शामिल है। क्राइम ब्रांच पुलिस ने जब बरखेड़ी इलाके में एक क्लीनिक में छापा मारा तो सेक्स रैकेट का खुलासा हुआ। यहां फर्जी तरीके से बिना लाइसेंस के क्लीनिक का संचालन भी हो रहा था। इसी क्लीनिक की आड़ में सेक्स रैकेट चल रहा था।

अदिति भवसार, डीएसपी, क्राइम ब्रांच डीएसपी ने किया खुलासा

क्राइम ब्रांच की डीएसपी अदिति भवसार ने इस मामले का खुलासा करते हुए बताया कि पुलिस को आला दफ्तर से यहां सैक्स रैकेट संचालित होने की सूचना मिली थी। उन्होंने बताया कि क्लीनिक की आड़ में यह ठिकाना पिछले एक-डेढ़ साल से चल रहा था। डीएसपी अदिति भवसार ने स्पष्ट किया कि छह पुरूष और चार महिलाओं की गिरफ्तारी हुई है, जिसमें एक आरोपी के टीएमसी के प्रदेश अध्यक्ष और एक आरोपी के पूर्व सरपंच होने की बात पूछताछ में आई है।

,
Shares