भोपाल, ग्वालियर, सहित 12 जिलों में बारिश की चेतावनी

भोपाल। मौसम विभाग नागपुर की वेबसाइट द्वारा जारी रिपोर्ट के अनुसार मध्य प्रदेश के भोपाल, ग्वालियर, मुरैना, सिवनी, पन्ना, विदिशा, छतरपुर, राजगढ़, सीहोर, श्योपुर, टीकमगढ़ और अशोकनगर जिले सहित उज्जैन संभाग में भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है। मध्य प्रदेश में पिछले 24 घंटे के अंदर भोपाल, जबलपुर और ग्वालियर संभाग के जिलों सहित अनेक स्थानों पर बारिश दर्ज की गई है। प्रदेश के ब्यावरा में 9, पानसेमल, परसवाडा, लटेरी में 5, बैहर, नरसिंहगढ, निवाड़ी में 4, ईसागढ़, बरेली, रौन में 3, ग्यारसपुर, करहल, कोलारस, पोहरी, रामगढ़, घाटी गांव, मुरैना, मंडला, तामिया, डबरा, नैनपुर में 2 सेमी बारिश दर्ज की गई है।

मौसम विभाग ने एक दिन पहले चेतावनी जारी की थी। इसमें जबलपुर सहित प्रदेश के अन्य जिलों में भारी बारिश का अलर्ट घोषित किया गया, लेकिन सोमवार को सुबह से शाम होने तक बादल छाए रहे और किसी भी इलाके में बूंदें तक नहीं पड़ीं। लोगों का पूरा दिन उमस और बेचैनी में बीता, क्योंकि एक दिन पहले दिन का तापमान 26 डिग्री था और सोमवार को पांच डिग्री ऊपर चढ़ गया। दिन भर धूप-छांव का खेल चला। मौसम विभाग ने आगामी चौबीस घंटे के दौरान गरज चमक के साथ हल्की बौछार और कुछ जगहों पर बारिश की संभावना जताई है।

कम दबाव ही कराएगा बारिश

पश्चिमी मध्यप्रदेश से लेकर पूर्वी सीमा तक कम दबाव का क्षेत्र विकसित नहीं होने से उमस और बेचैनी बढ़ी है। यदि जिले में भी कम दबाव का क्षेत्र बनता तो बारिश होती, लेकिन हवा की दिशा बदलने से भी बारिश वाले बादल दूसरे क्षेत्रों में खिसक गए। इस सीजन में कुल बारिश 20.3 इंच हो चुकी है। पिछले साल इन्हीं दिनों में बारिश 680 मिलीमीटर यानी 24 इंच से ज्यादा हो चुकी थी। मंगलवार को दक्षिण पश्चिम हवा 2 से 3 किमी की गति से चलेगी।

,
Shares