दिल्ली: हिंसा में अब तक 13 की मौत, उपद्रवियों को देखते ही गोली मारने का आदेश

 

दिल्ली: हिंसा में अब तक 13 की मौत, उपद्रवियों को देखते ही गोली मारने का आदे

नागरिकता संशोधन कानून (CAA) को लेकर शुरू हुआ बवाल थमने का नाम नहीं ले रहा है. उत्तर पूर्वी दिल्ली में हालात इतने बिगड़ गए हैं कि 4 जगहों पर कर्फ्यू लगा दिया गया है. वहीं नॉर्थ ईस्ट दिल्ली में पुलिस ने उपद्रवियों को देखते ही गोली मारने का आदेश जारी किया है. बता दें कि नॉर्थ ईस्ट दिल्ली में नागरिकता संशोधन कानून के नाम पर हो रही हिंसा ने उग्र शक्ल अख्तियार कर ली है. कल (सोमवार) से अब तक तोड़फोड़ और आगजनी की गई घटनाएं सामने आ चुकी हैं.
नॉर्थ ईस्ट दिल्ली में हुई हिंसा में अब तक 13 लोग जान गंवा चुके हैं. इसमें शहीद हेड कॉन्स्टेबल रतनलाल का नाम भी शामिल है. जबकि 2 आईपीएस अफसरों समेत 56 पुलिसकर्मी जख्मी हैं. हिंसा की घटनाओं में करीब 200 लोग घायल हुए हैं. नॉर्थ ईस्ट दिल्ली में हालात तनावपूर्ण हैं, इलाके में बड़ी तादाद में पुलिस बल तैनात है. बता दें कि आज (मंगलवार) उपद्रवियों ने कई मोटरसाइकलों को आग के हवाले कर दिया.

जीटीबी अस्पताल के सीएमओ के मुताबिक दिल्ली हिंसा में मारे गए लोगों की संख्या बढ़कर 13 हो गई है.

हिंसा के चलते CBSE ने 26 फरवरी को होने वाली 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं कैंसिल कर दी हैं.

 

दिल्ली: IPS एसएन श्रीवास्तव को स्पेशल कमिश्नर (लॉ एंड ऑर्डर) नियुक्त किया गया.

डीएम अजय शंकर पांडेय ने जानकारी दी कि दिल्ली हिंसा को देखते हुए नॉर्थ ईस्ट दिल्ली से गाजियाबाद की तरफ जाने वाले 3 बॉर्डर सील कर दिए गए हैं.
विजय भूषण, IG लॉ एंड आर्डर ने कहा कि दिल्ली से सटे यूपी के इलाकों में खासतौर पर नोएडा, गाज़ियाबाद, हापुड़, अलीगढ़, मुजफ्फरनगर, संभल जैसे जिलों में सुरक्षा व्यवस्था को और बेहतर किया गया है. एहतियात के तौर पर पश्चिमी उत्तर प्रदेश में सुरक्षा के इंतज़ाम और कड़े किए गए है.
गाजियाबाद के अप्सरा बॉर्डर को यूपी पुलिस ने सील कर दिया है, शाहदरा से सूर्या नगर की ओर रूट डायवर्ट किया गया.

,
Shares