दहलीज पर न पड़ने दें कोरोना के कदम,ये नियम बनायें

दहलीज पर न पड़ने दें कोरोना के कदम,ये नियम बनायें

कोरोना वायरस के डर से भारत में 21 दिनों के लिए लॉकडाउन जारी है. इस वक्त घरों में कैद रहना ही लोगों के लिए एकमात्र विकल्प है. लेकिन घर में रहकर भी यदि आप कुछ खास बातों को नजरअंदाज कर रहे हैं तो यकीन मानिए आप वहां भी सुरक्षित नहीं है. आइए आपको बताते हैं घर में रहकर आपकों खास बातों का ख्याल रखना है.

. घर में रहकर यदि आप बाहर से खाना ऑर्डर कर रहे हैं तो ये आपके लिए खतरे से खाली नहीं होगा. इस तरह के ऑर्डर की पेमेंट ऑनलाइन करें. कैश लेन-देन से बचें और ऑर्डर लेने से पहले हाथों में ठीक से ग्लव्स पहनें.’

 

. किसी भी चीच को छूने के बाद साबुन या सैनिटाइजर से अच्छे से हाथों को धोएं. कोरोना वायरस के लक्षण दिखने पर अलग कमरे में रहें. अपने कपड़ों या बर्तनों के संपर्क में घर के अन्य सदस्यों को न आने दें.

 

. यदि आप घर में भी मास्क पहनकर रह रहे हैं तो ध्यान रखें कि वो डिसइंफेक्टेड होना चाहिए. मास्क खराब होने की स्थिति में उसे इधर-उधर फेंकने की बजाय जला दें या फिर जमीन में गाड़ दें.

 

. इतना ही नहीं, किसी भी तरह के मास्क को 6-8 घंटों से ज्यादा नहीं पहनना है. सामान्य सर्दी-जुकाम होने पर भी आपका मास्क कोई दूसरा व्यक्ति न इस्तेमाल करें.

 

. यदि घर का कोई सदस्य कोरोना वायरस की चपेट में आ गया है तो बच्चे, बुजुर्ग और गर्भवती महिलाओं को उससे ज्यादा खतरा है. इसलिए रोगी से निश्चित दूरी बनाकर रखें.

. आपके कमरे में ही टॉयलेट की सुविधा होनी चाहिए और ध्यान रखें कि कोई भी बाहरी व्यक्ति उस कमरे में दाखिल न हों.

 

 यदि घर का कोई सदस्य या बाहरी व्यक्ति आपके कमरे में आ भी रहा है तो उससे कम से कम 1 से 3 मीटर की निश्चित दूरी बनाकर रखें.

. घर में रहते हुए भी हर वक्त मास्क पहनकर रहें. किसी भी सरफेस को छूने से पहले हाथों में ग्लव्स पहनें. ग्लव्स उतारने के बाद हाथों को अच्छी तरह साबुन से धोएं.

. घर में साफ-सुथरी जगह पर आप ज्यादा सुरक्षित हैं, लेकिन अगर आपको कोरोना वायरस के लक्षण दिख रहे हैं तो तुरंत सरकारी हेल्पलाइन नंबर या किसी नजदीकी अस्पताल से संपर्क करें.

 

दूसरे लोगों से संपर्क करने या कोई खास संदेश देने के लिए सोशल नेटवर्क का ज्यादा से ज्यादा इस्तेमाल करें.

,
Shares