Corona virus:मप्र सरकार की सलाह , सार्वजनिक समारोहों का आयोजन न करें

भोपाल. नोवल कोरोना वायरस को लेकर मप्र सरकार ने एडवाइजरी जारी की है। लोगों को सलाह दी गई है कि नोवल कोरोना वायरस के चलते सार्वजनिक समारोहों का आयोजन न करें या उन्हें आगे की तारीखों के लिए टाल दें। अगर समारोह आयोजित करना जरूरी ही हो तो उसकी रोकथाम के जरूरी उपाय किए जाएं, जिससे कोरोना वायरस के खतरे से बचा जा सके। एडवाइजरी के आने के बाद होली के कार्यक्रम प्रभावित रहेंगे। वहीं सरकार के मुताबिक अभी तक 14 सैम्पल जांच के लिए पुणे लैब भेजे गए थे, जिनमें से 13 सैम्पल की रिपोर्ट निगेटिव आई है और एक रिपोर्ट आना बाकी है।

देश में जानलेवा कोरोना वायरस की वजह से हड़कंप मचा हुआ है। कोरोना वायरस पर मध्य प्रदेश सरकार पूरी तरह से अलर्ट मोड पर आ चुकी है। इससे पहले भी स्वास्थ्य विभाग एडवाइजरी जारी कर चुका है। इसमें कहा गया था कि कोरोना संक्रमण वायरस संक्रमित व्यक्ति के सम्पर्क में आने से फैलता है। इससे बचाव के लिए संक्रमित व्यक्ति से दूरी बनाएं और सर्दी, खांसी और बुखार आने पर तुरंत डाक्टर को दिखाएं।
सर्दी-खांसी वालों की खास निगरानी जरूरी

विशेषज्ञों ने बताया कि कोरोना वायरस से डरने की नहीं बल्कि सावधानी बरतने की जरूरत है। लोगों को सतर्क करें।

सर्दी खासी बुखार के मरीजों को अलग रखें और तुरन्त अस्पताल में भर्ती कराएं।

प्रदेश के 350 केंद्रों पर वीडियो कान्फ्रेसिंग के माध्यम से विशेष प्रशिक्षण दिया गया है।

सभी स्वास्थ्य केन्द्रों पर इसके संबंधित सूचनाएं दी जा रही हैं और अस्पतालों में सर्दी, खांसी, और बुखार के मरीजों का अलग से इलाज किया जा रहा है।

लोगों को बताया जा रहा है कि भारतीय संस्कारों को बढ़ावा देते हुए नमस्कार करें।

खांसते-छीकतें समय मुंह पर कपड़ा रखें और कोहनी से नाक, मुंह ढकें, सर्दी-खांसी से संक्रमित व्यक्ति से दूरी बनाएं।

सार्वजनिक स्थलों पर जाने से बचें और 30 सेकेंड तक साबुन से हाथ धोएं।

टोल फ्री नम्बर 104 पर फोन कर जानकारी प्राप्त की जा सकती है एवं इसके संबंध में सूचना भी दी जा रही है।

कोरोना वायरस से बचाव का बड़ा उपाय बताते हुए कहा कि अपने इम्यून सिस्टम को बढ़ाएं।

,
Shares