सादगी और गरिमा से मनाया सीएम शिवराज का जन्मदिन

भोपाल, 05 मार्च । मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के जन्म दिन पर रविवार को बड़ी संख्या में नागरिकों, सामाजिक संगठनों और समाज के विभिन्न वर्गों के प्रतिनिधियों ने उनके निवास पहुँचकर बधाई एवं शुभकामनाएँ दी। नागरिकों ने मुख्यमंत्री के स्वस्थ, सुदीर्घ और यशस्वी जीवन की कामना की। आम आदमी के मुख्यमंत्री के रूप में चौहान ने सादगी और गरिमा के साथ अपना जन्म दिन मनाया और सभी की शुभकामनाएँ स्वीकार की। उन्होंने दिन की शुरूआत पूजा-अर्चना से की। सुबह से ही बधाई देने वालों का आना शुरू हो गया था, जो दोपहर तक चलता रहा। मुख्यमंत्री, पंडित दीनदयाल उपाध्याय रक्तदान शिविर में शामिल हुए। मुख्यमंत्री के जन्म दिन को ‘सेवा दिवस” के रूप में मनाया गया। इसमें युवाओं ने जरूरतमंदों के लिए रक्तदान दिया। उन्होंने कहा कि मानवता की सेवा करना ही सबसे बड़ा सौभाग्य है। इस अवसर पर विधान सभा अध्यक्ष डॉ. सीतासरन शर्मा, उपाध्यक्ष राजेन्द्र सिंह, मंत्रीगण रूस्तम सिंह, अंतर सिंह आर्य, ओमप्रकाश धुर्वे, रामपाल सिंह, लाल सिंह आर्य, विश्वास सारंग, ललिता यादव, महापौर आलोक शर्मा, सांसद और भाजपा अध्यक्ष नन्द कुमार चौहान उपस्थित थे। राज्य भण्डार गृह निगम के अध्यक्ष राजेन्द्र सिंह राजपूत, नगर निगम अध्यक्ष सुरजीत सिंह चौहान, मुख्य सचिव बी.पी.सिंह, पुलिस महानिदेश ऋषि कुमार शुक्ला, पूर्व पुलिस महानिदेशक सुरेंद्र सिंह, पूर्व मुख्य सचिव अंटोनी डिसा और बड़ी संख्या में राजधानी एवं प्रदेश के अन्य जिलों से आये गणमान्य नागरिक उपस्थित थे। मुख्यमंत्री चौहान ने वाल्मीकि और सुदर्शन समाज के स्वच्छता सेवा सम्मान में भाग लिया। महापौर आलोक शर्मा ने इस अवसर पर कहा कि़ मुख्यमंत्री विकास और सेवा का प्रतीक बन चुके हैं। उन्होंने सेवा की विचारधारा बनाई है। उन्होंने बताया कि भारत सरकार के स्वच्छता सर्वेक्षण 2017 में नागरिक बढ़-चढक़र भाग ले रहे हैं। पिछले साल के सर्वेक्षण में 21वाँ स्थान मिला था। इस बार आगे रहेंगे। मुख्यमंत्री ने शहर को स्वच्छ बनाने वाले परिवारों का स्वागत सम्मान किया। वाल्मीकि समाज की ओर से मुख्यमंत्री को चांदी का मुकुट पहनाया गया। सुदर्शन समाज की ओर से सुदर्शन चक्र भेंट कर सम्मानित किया। मुख्यमंत्री ने अपने अभिनन्दन क़े प्रत्युत्तर में कहा कि अगर वाल्मीकि समाज काम करना छोड़ दे तो कूड़े का ढेर बन जायेगा। उन्होंने चाँदी का मुकुट समाज को वापस करते हुए कहा कि इसके जेवर बनाकर गरीब बेटियों को दें। उन्होंने कहा कि गरीबों को रहने के लिए मकान दिया जायेगा। कामगारों के हित में कामगार वित्त आयोग बनाया जायेगा। सफाई कामगार आयोग पहले ही काम कर रहा है। मुख्यमंत्री और उनकी धर्मपत्नी साधना सिंह ने सफाई कामगारों को भोजन करवाया और उनके साथ बैठकर भोजन किया। उन्होंने माता मंदिर में जाकर पूजा-अर्चना की। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष नन्द कुमार सिंह चौहान ने कहा कि शिवराज ने राजनीति की धारा बदल दी है। वाल्मीकि समाज के रतन झा ने अभिनन्दन पत्र का वाचन किया। सांसद आलोक संजर, सांसद मनोहर ऊंटवाल, सहकारिता राज्यमंत्री विश्वास सारंग, विधायक सुरेंद्र नाथ सिंह, साधना सिंह, बड़ी संख्या में स्थानीय नागरिक, पूर्व महापौर कृष्णा गौर उपस्थित थे।

,
Shares