शिक्षक ने 11 साल की छात्रा से किया दुष्कर्म

भोपाल, 16 मार्च । राजधानी एक बार फिर शर्मसार हुई हैं। शहर के अवधपुरी थाना क्षेत्र में सरकरी स्कूल के एक टीचर ने दूसरी कक्षा में पढऩे वाली 11 साल की एक मासूम के साथ ज्यादत की। बुधवार को जब बच्ची रोते हुए अपने घर पहुंची तो मां और बुआ ने उससे रोने का कारण पूछा। इसके बाद बच्ची ने परिजनों को पूरा वाक्या सुनाया तब मामले का खुलासा हुआ। परिजनों ने बच्ची के साथ थाने पहुंचकर आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज करवाया। बुधवार शाम को पुलिस ने आरोपी शिक्षक को हिरासत में लेकर धारा 376, 342 आईपीसी 5/6 में केस दर्ज किया। जानकारी अनुसार अवधपुरी थाना एरिया के एक सरकारी प्राइमरी स्कूल हैं। स्कूल में 35 बच्चे हैं और दो साल पहले ही स्कूल शुरू किया गया है। अभी केवल कक्षा एक व दो ही लगती हैं। मोहन सिंह (56 वर्ष) दो साल से इस स्कूल में है। स्कूल में वह अकेला है। इसलिए इंचार्ज भी है। पहले वह अमरावद खुर्द में था। उसकी पत्नी भी सरकारी स्कूल में टीचर है। वहीं पीडि़त बच्ची की फैमिली सागर से आठ साल पहले यहां आई थी। बच्ची के पिता नहीं हैं। बच्ची की दो छोटी बहने और एक छोटा भाई है। बुधवार को आरोपी ने बच्ची को कमरे में झाड़ू लगाने के बहाने से बुलाया और उसके साथ गलत काम करने लगा। इसके बाद आरोपी ने किसी भी नहीं बताने की धमकी देकर बच्ची को छोड़ दिया। रोती हुई बच्ची घर पहुंची और अपनी मां बुआ को सारी घटना बताई इसके बाद परिजन बच्ची को लेकर स्कूल पहुंचे। मोहन सिंह ने बच्ची को मां के साथ आता देखा तो भाग खड़ा हुआ। जिसके बाद परिजनों को बच्ची का बात का विश्वास हुआ और वे उसे लेकर थाने पहुंचे और आरोपी की शिकायत की। डीईओ धर्मेंद्र शर्मा ने बताया कि आरोपी शिक्षक बच्ची के साथ पिछले 4 महिने से गलत काम कर रहा था। पुलिस ने आरोपी मोहन सिंह को बुधवार शाम को अरेस्ट कर धारा 376, 342 आईपीसी 5/6 में केस दर्ज किया। पुलिस से रिपोर्ट मिलते ही उसे सस्पेंड कर दिया जाएगा। वहीं इस पूरे मामले पर बच्ची की मां का कहना हैं कि मैं दो साल से मोहन सिंह के घर पर काम करती थी। उसके बच्चे काफी बड़े हैं सभी मेरी बच्ची से अच्छे से बात व्यवहार करते थे इसलिए कभी शक नहीं हुआ। हालांकि बच्ची ने कई बार मोहन सिंह की शिकायत कर मुझे सच बताने की कोशिश की लेकिन कभी उसकी बात पर ध्यान नहीं दिया। कल जो हुआ उसके बाद सच सामने आ गया।

,
Shares