शातिर वाहन चोर क्राईम ब्रांच की गिरफ्त में

 

इन्दौर:

पुलिस उपमहानिरीक्षक श्रीमति रूचिवर्धन मिश्र इन्दौर (शहर) व्दारा शहर में वाहन चोरी की वारदातों पर अंकुश पाने तथा चोरी गये वाहनों की पतारसी कर आरेापियों की गिरफ्तारी हेतु इंदौर पुलिस को निर्देशित किया गया था। उक्त निर्देषों के तारतम्य में पुलिस अधीक्षक (मुख्यालय) इंदौर  सूरज वर्मा के निर्देशन में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (क्राईम ब्रांच) अमरेन्द्र सिंह द्वारा क्राईम ब्रांच की समस्त टीम प्रभारियों को इस दिशा में प्रभावी कार्यवाही करने हेतु समुचित निर्देश दिये गये थे।

क्राईम ब्रांच की टीम को मुखबिर तंत्र के माध्यम से सूचना मिली थी कि थाना-भंवरकुँआ के अपराध क्रमांक-312/19 धारा-379 भा.द.वि. में चोरी गये टीवीएस जुपीटर वाहन क्रमांक-MP 09 NV 3140 पर फर्जी नम्बर प्लेट लगाकर, एक व्यक्ति बेचने के लिये एक व्यक्ति घूम रहा है, जिस फर्जी नम्बर MP 09 U 2904 लगा हुआ है, उक्त सूचना पर से थाना-भंवरकुँआ पुलिस के साथ क्राईम ब्रांच की टीम द्वारा संयुक्त रूप से कार्यवाही करते हुये संदिग्ध व्यक्ति को पकड़ा जिसके पास उपरोक्त नम्बर प्लेट का वाहन था। उसने अपना नाम करणदीप सिंह पिता सुरेन्द्र सिंह लुथरा उम्र-21 वर्ष निवासी-16 एन एक्स गुरूनानक कॉलोनी वैष्णव धाम मन्दिर, इन्दौर का होना बताया।

आरोपी करणदीप ने पूछतांछ में बताया कि वह कक्षा 12वीं तक पढ़ा है जिसने टीवीएस जुपीटर वाहन सोनू उर्फ प्रभजोत सिंह से खरीदा था। बाद आरोपी करण, उसके पिता जी की टीवीएस जुपीटर गाड़ी की नम्बर प्लेट, खोलकर, चोरी की गाड़ी पर लगाकर बेचने के लिये घूम रहा था।

वाहन चोरी के जुर्म में आरोपी सोनू उर्फ प्रभजोत सिंह उम्र-18 वर्ष निवासी- 37 ए श्रीयंत्र नगर खण्डवा रोड, इन्दौर की तलाश कर उसे पकड़ा गया जिसने बताया वह कक्षा-10वीं तक पढ़ा है तथा उपरोक्त वाहन उसने वाहन वेदा बिजनेस पार्क की पार्किंग, भंवरकुऑ से माह-अप्रैल 2019 में चोरी किया था, चोरी के बाद उसने उपरोक्त वाहन करणदीप सिंह को बेच दिया था।

आरोपी सोनू ने पूछताछ में बताया कि उसने पूर्व में अपने मकान मालिक की हीरो प्लेजर गाडी चुराई थी, जिसमें वह थाना-भंवरकुँआ में कुछ माह पूर्व बंद भी हो चुका है । उपरोक्त दोनों आरेापियों से चारी का वाहन बरामद किया जाकर अपराध क्रमांक 312/19 धारा 379 भादवि के तहत पुलिस अभिरक्षा में लिया गया है।

,
Shares