मुस्लिम महिलाओं को भी न्याय मिलना चाहिए- मोदी

भुवनेश्वर। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि जब सामाजिक न्याय की बात की जाए तो मुस्लिम महिलाओं को भी न्याय मिलना चाहिए। किसी भी समाज में महिलाओं पर अत्याचार नहीं करना चाहिए। इस प्रथा को खत्म करना चाहिए।

भाजपा नेता और केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक समापन के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जो कुछ कहा उसे संवाददाता सम्मेलन में बताते हुए कहा कि प्रधानमंत्री का योगदान पार्टी के लिए अत्यधिक है। प्रधानमंत्री ने अपने भाषण की शुरुआत पांडित दीनदयाल उपाध्याय जी की अंत्योदय का चिंतन से की। उन्होंने कहा कि भाजपा ने सबसे ज्यादा हार का समाना किया है। इसी हार से प्रेरणा लेकर उन्होंने न्यू इंडिया की शुरुआत की।

प्रधानमंत्री मोदी ने रविवार को अपने समापन संबोधन में कहा, नेता बड़बोलेपन से बचें, बयानबाजी न करें। विजय के बाद नम्रता और बढ़नी चाहिए, उसमें उन्माद नहीं होना चाहिए। उन्होंने पार्टी नेताओं को बड़बोलेपन और बयानबाजी से बचने की सलाह दी है।‘

मोदी ने अपने भाषण में कहा कि जनधन योजना के तहत 48 करोड़ लोगों ने अपना खाता खोला, आर्थिक नीति में जीएसटी योजना को मिली मंजूर पर चर्चा की। उन्होंने कहा कि सरकार को ईमानदारी से काम करना चाहिए। मोदी ने कहा, देश में हमेशा नीतियां बनी पर अमल नहीं हुआ| इसलिए नीति का अनुसरण करना चाहिए। मोदी सरकार ने देश में 3 कॉन्सेप्ट रखे हैं, जनधन, वनधन और जलधन पर अपने विचार रखे। जलधन के लिए प्रधानमंत्री सिचाई योजना चलाई गई। इसके साथ ही जनधन के लिए कालेधन और वन बचाने, हरियाली के वनधन पर काम कर रही है।

,
Shares