मप्र में रेपिस्ट को मौत की सजा देने लाया जाएगा विधेयक – शिवराज सिंह चौहान

 

 

 

 

 

 

 

 

 

भोपाल। आमतौर पर कूल नजर आने वाले मप्र के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी अब यूपी की तर्ज पर ‘रोमियो’ के खिलाफ डंडा चलाने के मूड में आ गए हैं। शुक्रवार को भौंरी स्थित मप्र पुलिस की अकादमी में आयोजित 89वें सब इंस्पेक्टर पासिंग आउट परेड में पहुंचे सीएम ने यूपी की तर्ज पर मप्र में भी ‘एंटी रोमियो’ अभियान चलाने का ऐलान किया है।

शिवराज सिंह चौहान ने मप्र में भी एंटी रोमियो अभियान शुरू करने एक ऐलान किया है। उन्होंने कहा कि महिलाओं की सुरक्षा को लेकर कोई समझौता नहीं किया जाएगा।
मुख्यमंत्री शुक्रवार को भौंरी स्थित मप्र पुलिस की अकादमी में आयोजित 89वें सब इस्पेक्टर पासिंग आउट परेड में बोल रहे थे।
-शिवराज सिंह ने पुलिस जवानों से कहा कि, किसी की चिकनी-चुपड़ी बातों में न आएं। दलालों से बचकर रहें।
मुख्यमंत्री ने पुलिस जवानों की तारीफ करते हुए कहा कि ट्रेन ब्लास्ट के तीन घंटे के अंदर ही पुलिस ने आतंकियों को गिरफ्तार कर लिया था। ये जवान किसी भी अपराध को रोकने में पूरी तरह सक्षम हैं।
मुख्यमंत्री ने कहा कि मैं सबके सामने कह रहा हूं कि किसी भी अपराधी को छोडूंगा नहीं।
सीएम ने कहा कि पुलिस को यह खुली छूट है कि मध्य प्रदेश में पनप रहे अपराधियों के नेटवर्क को सिमी की तरह जड़ से खत्म कर दें। बदमाशों के लिए बज्र से ज्यादा कठोर और जनता के लिए मृदु भाषी बनें। मासूमों से कोई बुरा बर्ताव करे, तो उसे जेल नहीं भेजें, बल्कि मृत्यु दंड दे दें।
मुख्यमंत्री ने कहा है कि बालिकाओं के साथ दुराचार करने वाले को मृत्युदण्ड देने का विधेयक विधानसभा के आगामी मानसून सत्र में प्रस्तुत किया जाएगा। पारित होने के बाद उसे राष्ट्रपति को भेजा जाएगा।

 

 

,
Shares