मंगलवार से शुरू होगा ‘स्कूल चलें हम’ अभियान

भोपाल। मध्यप्रदेश में गरीब झोपड़-पट्टी में रहने वाले और पन्नी बीनने वाले बच्चों को स्कूल भेजने के उद्देश्य से राज्य सरकार द्वारा इस साल भी स्कूल चलें हम अभियान चलाने जा रही है। इसकी शुरुआत मंगलवार को होगी और यह तीन चरणों में चलाया जाएगा। इसकी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। स्कूल चलें हम अभियान को लेकर स्कूल शिक्षा विभाग ने रूपरेखा बनाकर सभी जिलों को भेज दी गई है।

बता दें कि प्रदेशभर में यह अभियान तीन चरणों में संचालित किया जाएगा। पहले चरण में अकादमिक सत्र 2016 के वार्षिक मूल्यांकन परिणाम की घोषणा, कक्षा 1 से 8 तक के छात्रों का अगली कक्षा में प्रवेश एवं कक्षा 1 में प्रवेश लेने वाले बच्चों व स्कूल से बाहर बच्चों का घर-घर जाकर सर्वे किया जाएगा। दूसरे चरण में कक्षा 1 नव प्रवेशी एवं कक्षा 10 से 11 तथा कक्षा से 12वीं में प्रवेश लेने वाले बच्चों के लिए एवं स्कूल से बाहर तथा विशेष आवश्यकता वाले बच्चों के लिए संचालित किया जाएगा।

मंगलवार, 18 अप्रैल से कक्षा 1 में प्रवेश के लिए घर-घर जाकर सर्वे किया जाएगा। यह सर्वे का कार्य 5 मई तक जारी रहेगा। पिछले चरण में वार्षिक परीक्षा परिणाम की घोषणा और अगली कक्षा में नामांकन की प्रक्रिया 26 से 28 अप्रैल तक चलेगी। इसी दौरान कक्षा 5 से 6 और 8 से 9 में ट्रांजिशन लॉस रोकने के लिए कक्षा 5 से 6 उत्तीर्ण छात्रों का स्थानांतरण प्रमाण-पत्र निकट के माध्यमिक या हाई स्कूल के हेडमास्टर व प्राचार्य जारी करेंगे।

सभी जानकारी को समय सीमा में अद्यतन प्रविष्टि पूरी कराने की जिम्मेदारी जिला प्रोग्रामर, विकासखंड शिक्षा अधिकारी एवं विकास स्त्रोत समन्वयक की होगी। इसकी लगातार मॉनीटरिंग जिला शिक्षा अधिकारी, सहायक आयुक्त आदिवासी विभाग व जिला परियोजना समन्वयक की होगी। डीपीसी के मुताबिक स्कूल चलें अभियान 2017-18 के दूसरे व तीसरे चरण के निर्देश बाद में जारी किए जाएंगे।

,
Shares