भोपाल में लगातार दूसरे दिन दो की हत्या, बदमाशों ने मारी गोली

भोपाल। मध्यप्रदेश में अपराधियों के हौसले इतने बुलंद हैं कि उन्हें पुलिस-प्रशासन और कानून का बिलकुल भी डर नहीं रह गया है। इसीलिए प्रदेश में अपराधों का ग्राफ लगातार बढ़ता जा रहा है। इसका ताजा उदाहरण राजधानी भोपाल में है। शनिवार की रात हुए दो हत्याकांडों की जांच पूरी भी नहीं हो पाई थी, कि रविवार की रात फिर बदमाशों ने दो लोगों की गोली मारकर हत्या कर दी। यानी दो रातों में पांच लोगों की हत्या। रविवार की रात बाइक सवार बदमाशों ने राजधानी भोपाल के मोती मस्जिद इलाके में मेडिकल की दुकान चलाने वाले राशिद (40 वर्ष) और उनकी दुकान पर काम करने वाले दानिश (28 वर्ष) को गोली मार दी, जिससे दोनों की मौके पर ही मौत हो गई। इस घटना से राजधानी में दहशत का माहौल है।

कोतवाली थाना के सीएसपी राजेन्द्र रघुवंशी ने बताया कि रविवार को रात साढ़े नौ बजे के करीब मेडिकल दुकान संचालक राशिद अपनी दुकान पर काम करने वाले कर्मचारी दानिश के साथ दुकान बंद करके पार्किंग में खड़ी गाड़ी के पहुंचे ही थे कि बाइक पर सवार होकर आए दो बदमाशों ने उन पर ताबड़तोड़ गोलियां चलानी शुरू कर दी। गोलियां दोनों के सिर और सीने में लगीं, जिससे उनकी मौके पर ही मौत हो गई। घटना के बाद बदमाश मौके से फरार हो गए। पुलिस ने सूचना मिलते ही मौके पर पहुंचकर दोनों शवों को तत्काल हमीदिया पहुंचाया, जहां रविवार को सुबह दोनों का पोस्टमार्टम हुआ। सीएसपी के मुताबिक एक आरोपी की पहचान हुई थी, जिसे पुलिस ने देर रात गिरफ्तार कर लिया है और उससे पूछताछ जारी है। पुलिस ने आरोपी का नाम रहमान बताया है।

कोतवाली सीएसपी रघुवंशी ने बताया कि तीन दिन पहले मेडिकल संचालक राशिद ने आरोपी रहमान के खिलाफ थाने में शिकायत की थी कि वह उसे पैसे के लेन-देन को लेकर धमका रहा है और तलवार लेकर दुकान में घुस आता है। इसीलिए दो दिन तक राशिद ने अपनी दुकान बंद रखी, लेकिन रविवार को पुलिस के कहने पर उसने दुकान खोली थी और रात को दुकान बंद करने के बाद यह हादसा हो गया, जिसमें उसकी तो मौत हुई ही, दुकान में काम करने वाले कर्मचारी को भी बदमाशों ने गोली मारकर मौत के घाट उतार दिया।

बता दें कि शनिवार की रात बाइक सवार बदमाशों ने भाजपा कार्यकर्ता और उसके दोस्त को गोली मार कर फरार हो गए थे। इस घटना में भाजपा कार्यकर्ता की मौके पर ही मौत हो गई थी, जबकि उसका दोस्त गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती है। इसी तरह शनिवार की रात ही एक पति ने अपनी पत्नी को राजधानी के भूत बंगला इलाके में गला रेतकर हत्या कर दी थी। इन दोनों मामलों की जांच-पड़ताल पूरी भी नहीं हुई थी, रविवार की रात फिर दो लोगों की हत्या हो गई। इससे राजधानी की पुलिस-प्रशासन की कार्यप्रणाली पर सवाल उठ रहे हैं। ऐसा लगता है कि यहां बदमाशों के दिलों में पुलिस का जरा भी खौफ नहीं रह गया है।

,
Shares