भारत में कोविड-19 को हराने की अद्भुत क्षमता:डब्ल्यूएचओ

कोरोनावायरस के कारण देश पूरी तरह लॉकडाउन की तरफ बढ़ रहा है। 28 राज्यों में से 24 और 8 केंद्र शासित प्रदेशों में से 6 में लॉकडाउन और 3 राज्यों के कुछ जिलों में भी पाबंदी है। इस बीच, विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के डायरेक्टर डॉ. माइकल जे रायन ने कहा है कि भारत में कोरोनावायरस से लड़ने की अद्भुत क्षमता है। यह देश महामारी से निपटना अच्छी तरह से जानता है और चेचक-पोलियो को हरा चुका है।

घनी आबादी के कारण मामले बढ़ेंगे

डॉ. माइकल जे रायन के मुताबिक, जहां पर भी कोरोनावायरस संक्रमितों की संख्या बढ़ रही है, वहां लैब की संख्या बढ़ाने की जरूरत है। भारत अधिक जनसंख्या वाला देश है और घनी आबादी होने के कारण यहां कोरोना के मामले बढ़ेंगे। इसलिए एहतियाती कदम उठाने होंगे। इस वैश्विक महामारी का भविष्य इस बात पर निर्भर करेगा कि भारत इसे कैसे संभालता है।

भारत से हैं डब्ल्यूएचओ को उम्मीदें
डॉ. माइकल ने कहा- सवालों का जवाब देना आसान नहीं है। लेकिन यह जरूरी है कि भारत दुनिया के सामने ऐसा उदाहरण पेश करे, जैसा आज तक कोई दूसरा देश नहीं कर पाया। भारत ने जिस तरह से कोरोना से लडने में तेजी दिखाई और एक्शन लिया उसकी तारीफ डब्ल्यूएचओ के रीजनल इमरजेंसी डायरेक्टर डॉ. रॉड्रिको ऑफरिन ने भी की।

भारत ने जो कदम उठाए वो जंग जीतने में मदद करेंगे : डब्ल्यूएचओ
डॉ. रॉड्रिको ने कहा- सोशल डिस्टेंसिंग, क्वारेंटाइन, कोरोना प्रभावित 75 जिलों में लॉकडाउन, रेल पर रोक और बसों-मेट्रो को बंद करके भारत में बड़े कदम उठाए गए हैं। यह ऐसी पहल हैं, जो इस वायरस को फैलने से रोकने में मदद करेगी। डब्ल्यूएचओ के मुताबिक, दुनियाभर में कोविड-19 के 3,30,000 मामले सामने आ चुके हैं। मौत का आंकड़ा 14,000 को पार कर गया है।

,
Shares