भाजपा विधायक ने कहा एयरपोर्ट नहीं शुरू किया तो प्रधानमंत्री को भी नहीं उतरने देंगे

कोटा, 05 मार्च । अपने बयानों को लेकर हमेशा विवादों में रहने वाले लाड़पुरा से भाजपा विधायक भवानीसिंह राजावत रविवार को एक और बयान देकर सुर्खियों में आए हैं। कोटा के नयापुरा स्थित पोस्ट ऑफिस में रविवार को पासपोर्ट सेवा केन्द्र के उद्घाटन के दौरान राजावत ने जनता की पीड़ा को फिर मंच पर ला दिया। इस अवसर कोटा सांसद ओम बिरला भी मौजूद थे। राजावत ने कहा कि सांसद बिरला को कटघरे में खड़ा करते हुए कहा कि कोटा में पासपोर्ट सेवा केन्द्र के लिए प्रयास किए और इसे कोटा में खुलवाया इसके लिए बहुत-बहुत धन्यवाद, लेकिन इसका ऐसा प्रचार किया गया जैसे पासपोर्ट नहीं एयरपोर्ट आ गया हो। वे यहीं नहीं रूके, उन्होंने कहा कि कोटा की जनता को पासपोर्ट नहीं एयरपोर्ट चाहिए। उन्होंने कहा पासपोर्ट को क्या जेब में लेकर घूमेंगे, हवाई जहाज में बैठने कहां जाएंगे। सांसद बिरला पर तंज कसते हुए राजावत ने कहा केन्द्र ने आपको एयरपोर्ट की जगह पासपोर्ट देकर खुश कर दिया। कोटा में हवाई जहाज उड़ेगा, कोटा में हवाई जहाज उड़ेगा। यह सुनते-सुनते कान पक गए। उड्डयन मंत्रालय व हवाई अड्डा प्राधिकरण के अधिकारी आते हैं, दिनभर फोटो खींचवाते हैं, कोटा की कचौड़ी खाते हैं और देहरादून में बैठकर चले जाते हैं। किशनगढ़ जैसी जगह हवाई हड्डा बन गया और कोटा में नहीं बना। नेता तो आते हैं और हवाई अड्डे पर उतर जाते हैं उन्हें लगता है यहां हवाई सेवा है। यह जनता का नहीं नेताओं का हवाई अड्डा है। बिरला जी आप तय कर लें, इस हवाई अड्डे पर नहीं उतरेगा, चाहे प्रधानमंत्री का ही विमान क्यों न हो। उन्हें अहसास होना चाहिए कि जनता की सुनवाई नहीं हो रही है। एक दिन प्रधानमंत्री से मिलकर कोटा के लिए नया हवाई अड्डे की मांग करें। नहीं माने तो धरने पर बैठ जाएं। कार्यक्रम में सांसद ओम बिरला ने कहा कि कोटा शहर की जनता का सपना था कि कोटा में पासपोर्ट बने, उन्हें इसके लिए जयपुर नहीं जाना पड़े। यह आज पूरा हो रहा है। बिरला ने कहा कि उन्होंने चुनाव में जनता से जो वादे किए थे, वे एक-एक कर पूरे किए जा रहे है। भाजपा की सियासी बयान बाजी के बीच कांग्रेस नेता और पूर्व मंत्री शांति धारीवाल ने कहा कि भाजपा नेता हमेशा टालमटोल की राजनीति करते हैं। दरअसल यह काम करना ही नहीं चाहते हैं।

,
Shares