फायनेंस कंपनियो से फर्जी लोन , धोखाधड़ी करने वाला मास्टर माइंड क्राईम ब्रांच की गिरफ्त में

. फायनेंस कंपनियो से प्लॉट/मकानों पर फर्जी लोन

धोखाधड़ी करने वाला मास्टर माइंड सहित एक आरोपी क्राईम ब्रांच की गिरफ्त में

आरोपीगण प्रायवेट फायनेंस कंपनियो से अलग-अलग प्लॉट/मकान पर लेते थे फर्जी लोन ।

मास्टर माइंड एवं भूमि स्वामी की मिलीभगत से होम लोन फायनेंस कराते थे ।

आरोपीगण वर्ष 2018 से लगभग 18 लाख रुपये का लोन लेकर फरार थे ।

मुख्य आरोपी के साथ मास्टर माइंड को क्राइम ब्रांच ने किया गिरफ्तार ।

पुलिस रिमाण्ड पर गिरफ्तार आरोपियों से अन्य फरार आरोपियों की पूछताछ जारी ।

घटना का विवरण:-

दिनांक 28/11/2021 को फरियादी अमित सिंह क्लस्टर मैनेजर शुभम हाउसिंग डेवलपमेंट फाइनेंस कंपनी लिमिटेड भोपाल के द्वारा शिकायत की गई थी कि श्रीमती गीता पत्नी घनश्याम सिंगरोले एवं घनश्याम सिगरोले पुत्र खूबचंद सिंगरोले निवासी मकान क्रमांक 35 पुरुषोत्तम नगर ( नवीन नगर ) ओल्ड सेमरा स्वप्निल स्कूल भोपाल स्थायी पता ग्राम भटेरा तहसील गाडरवारा जिला नरसिंहपुर मध्य प्रदेश , एंव अल्लारखा उमर परसाला एवं रहीमा पत्नी अल्लारखा निवासी हाउस न .24 पुराने आर टी ओ के पीछे पुतली घर कालोनी भोपाल द्वारा आपराधिक षड्यंत्र के तहत धोखाधड़ी कर शुभम हाउसिंग डेवलपमेंट फाइनेंस कंपनी लिमिटेड भोपाल से ग्राम अरवलिया थाना ईटखेडी भोपाल स्थित खसरा नबंर 194/2/2ख/1रकबा0.240 पर एक 600 वर्ग फुट के मकान नबंर 79 पर वर्ष 2018 मे 675180 /- रुपये गृह ऋण प्राप्त कर किया गया था इसी तरह अल्लारखा उमर परसाला व उसकी पत्नि रहीमा द्वारा ग्राम अरवलिया स्थित इसी खसरे पर प्लाट नबंर 30 जो कि 600 वर्ग फुट का वर्ष 2018 मे 605494 /- रुपये शुभम हाउसिंग डेवलपमेंट फाइनेंस कंपनी लिमिटेड भोपाल से ग्रह ऋण प्राप्त करने के पश्चात घन्श्याम सिंगरौले व गीता , अल्लारखा , रहीमा के पते तलाश की तो पते पर नही मिले न ही बैंक की किश्त भरी गई कंपनी द्वारा पता करने पर ज्ञात हुआ कि उक्त सभी लोग लेकर फरार हो गये है लोन कराने मे उज्जवल जैन व भूमि स्वामी ज्योति सिंह व उसके पति रघुवीर सिंह द्वारा जिस मकान/ प्लाट पर लोन लिया गया था वह किसी और का है तव शुभम फायनेंस कंपनी द्वारा लोन लेकर धोखाधडी करने के सबंध मे शिकायत की गई थी शिकायत जांच पर दिनांक 11/12/2021 को अप. क्र. 325/21 धारा 420/406 भादवि का अपराध आरोपियो के विरुद्ध पंजीबद्ध कर विवेचना मे लिया गया था ।

प्रकरण मे विवेचना के दौरान फायनेंस कंपनियो से जानकारी प्राप्त की गई कि आरोपी घन्श्याम सिगरौले व गीता सिंगरौले ने कैपरी ग्लोवल फायनेंस कंपनी भोपाल से ग्राम अरवलिया स्थित उक्त जमीन पर एक प्लाट नंबर 31 जो 800 वर्ग फुट का जिसकी रजिस्ट्री ज्योति सिंह के द्वारा की गई थी इस प्लाट पर भी 191070/- रुपये लोन प्राप्त किया गया तथा ग्राम अरवलिया स्थित इसी भूमि पर एक प्लाट नंबर 32 जो 600 वर्ग फुट का है जिसकी रजिस्ट्री ज्योति सिंह द्वारा गीता सगरौले के नाम पर की गई थी पर गीता सिंगरौले व घन्श्याम सिगरौले द्वारा आदित्य विडला फायनेस कपंनी भोपाल से उक्त प्लाट पर 368775/- रुपये लोन प्राप्त किया गया था लोन की राशि ज्योतकि सिंह के खोतो मे ट्रांसफर हुई थी सभी बैंकों से जानकारी प्राप्त की गई । विवचेना के दौरान ज्ञात हुआ तथा ग्राम अरवलिया स्थित उक्त खसरे की जानकारी पटवारी के माध्यम से प्राप्त की गई जो भूमि स्वामी ज्योति सिंह व उसके पति द्वारा दूसरे मकान/ प्लाट की फोटो लगाकर आरोपियो के नाम पर रजिस्ट्री कर दी गई लोन के पेपर उज्जवल जैन द्वारा तैयार किये गये तथा लोन की रकम भूमि स्वामी ज्यित सिंह व उसके पति रघुवीर सिहं , उज्जवल जैन , घन्श्याम सिगरोले व, गीता सिंगरौले , अल्लारखा , रहीमा के द्वारा आपस में बांट ली गई तथा लोन लेकर उक्त पते बदल कर अन्यत्र लुक छिप करन निवास करने लगे ।
आरोपीगणों द्वारा ग्राम अरवलिया स्थित भूमि पर अलग-अलग मकान/प्लॉट पर आरोपियों ने मास्टर माइंड उज्ज्वल जैन द्वारा भूमि स्वामी से मिली भगत कर षड़यंत्र पूर्वक शुभम हाउसिंग डेवलपमेंट फाइनेंस कंपनी लिमिटेड मानसरोवर भोपाल, कैपरी ग्लोबल फायनेंस कंपनी एम पी नगर भोपाल, आदित्य बिड़ला हाउसिंग फायनेंस कंपनी एम पी नगर भोपाल से आरोपी 1- गीता सिंगरौले 2- घन्श्याम सिंगरौले 3- अल्लारखा उमर परसाला 4- रहीमा अल्लारखा के नाम पर अलग-अलग रजिस्ट्रिया मकान/प्लॉट के फोटो लगाकर उक्त कंपनियों से लगभग 18 लाख रुपये का लोन लेकर फरार थे ।

प्रकरण में पुलिस उपायुक्त अपराध अमित कुमार, अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त शैलेन्द्र सिंह चौहान, सहायक पुलिस आयुक्त शिवपाल सिंह कुशवाह के द्वारा आरोपियों की शीघ्र गिरफ्तारी हेतु लगातार मार्गदर्शित किया गया की प्रकरण में विवेचना के दौरान लगातार उक्त आरोपिगणों की तलाश पतारसी के प्रयास किये गए । चूकि आरोपिगणों द्वारा अपने मोबाइल नं एवं पते ठिकाने बार-बार बदलकर गिरफ्तारी के डर से अज्ञात स्थान पर लुक-छिप कर निवास करते रहे कि आरोपियों की पतारसी हेतु टेक्निकल सहायता प्राप्त की गई । प्रकरण की विवेचना के दौरान दिनाँक 24.11.2022 को मुखविर की सूचना पर आरोपी घनश्याम सिंगरौले एवं उसका साथी उज्ज्वल जैन को शुजालपुर से गिरफ्तार कर पूछताछ की गई, आरोपीगणों द्वारा भूमि स्वामी ज्योति, रघुवीर सिंह तथा उक्त आरोपीगणों के साथ मिलकर उक्त फायनेंस कंपनियों से फर्जी तरीके से किसी अन्य मकान/ प्लाट के फोटो लगाकर रजिस्ट्री कराकर लोन लेकर फरार होकर धोखाधडी करना वताये तथा जुर्म धारा सदर का करना स्वीकार किया । आरोपियों को माननीय न्यायालय पेश कर अन्य आरोपियों की तलाश, पतारसी तथा गिरफ्तारी हेतु एवं साक्ष्य संकलन हेतु आरोपियों का पुलिस रिमाण्ड प्राप्त किया गया आरोपियो के प्लाट का वैल्यूएशन एंव तस्दीक करने वाल बैंक कर्मचारियो की मिली भगत होने की सभवाना है इस संबध मे जानकारी प्राप्त की जा रही है ।

आरोपियों से उक्त प्रकरण के अलावा अन्य क्षेत्रो में की गई धोखाधड़ी करने के संबध में पूंछताछ एंव जानकारी प्राप्त की जा रही है जिनसे बड़े खुलासे की संभावना हैं ।प्रकरण मे भूमि स्वामी एंव मास्टर मांइंड उज्जवल जैन की संलिप्तता होने से प्रकरण मे धारा 120 बी भादिवि का इजाफा किया गया ।

तरीका वारदात – आरोपीगण प्रायवेट फायनेंस कंपनियो से भूमि स्वामी के साथ मिलकर किसी अन्य प्लॉट/मकानो के फोटो लगाकर अलग-अलग फायनेंस कंपनियों से फर्जी लोन लेकर तथा पते ठिकाने बदल-बदल कर वारदात को अंजाम देते थे ।

गिरफ्तार आरोपी की जानकारी, शैक्षणिक योग्यता-

क्र, नाम आरोपी पता,शैक्षणिक योग्यता, आपराधिक रिकार्ड-

1.घन्श्याम सिंगरौले पिता खूबचंद सिगरौले निवासी मन. 249 ओम सेक्टर अयोध्या नगर, 8 वी, जानकारी प्राप्त की जा रही हैं।

2- उज्ज्वल जैन पिता राजेन्द्र जैन उम्र 36 साल निवासी सम्राट कालोनी अशोकागार्डन भोपाल मूल निवास मंडी रोड़ शुजालपुर जिला शाजापुर म.प्र.
बीएससी, जानकारी प्राप्त की जा रही हैं।

3- गीता सिंगरौले पति घनश्याम सिगरौले मन. 123 दुर्गा नगर चांदबड मल्टी होम्स सेमरा गेट अमोनी भोपाल 2 भोपाल
फरार, जानकारी प्राप्त की जा रही हैं ।

4- अल्लारखा उमर परसाला पिता उमर परसाला निवासी मन. 24 पुराना आरटीओ के पीछे पुतलीघर, शाहजहानाबाद भोपाल, फरार, जानकारी प्राप्त की जा रही हैं।

5- रहीमा पति अल्लारखा निवासी मन. 24 पुराना आरटीओ के पीछे पुतलीघर शाहजहानाबाद भोपाल, फरार, जानकारी प्राप्त की जा रही हैं।

6 -ऱघुवीर सिंह, फरार, जानकारी प्राप्त की जा रही हैं।

7-ज्योति, फरार, जानकारी प्राप्त की जा रही हैं। गिरफ्तार आरोपी

सराहनीय भूमिका – थाना क्राइम ब्रांच निरी अनूप कुमार उईके, उनि कलीमउद्दीन, सउनि राजेश जामलिया, सउनि जुबेर अहमद, प्रआर.संतोष तनवे,आर. सुरेन्द्र कुशवाह, आर.जितेन्द्र चंदेल, मआर. अनुराधा बघेल की सराहनीय भूमिका रही ।

,
Shares