फर्जी फेसबुक आईडी बनाकर करता था महिला को परेशान, सायबर क्राइम ने किया गिरफ्तार

 

सायबर क्राइम पुलिस ग्वालियर द्वारा एक ऐसे आरोपी को गिरफ्तार किया गया है। जो फेसबुक पर महिला के नाम की फर्जी फेसबुक आईडी बनाकर उस पर फोटो अपलोड कर तथा आपत्तिजनक मेसेज व टिप्पणी कर महिला को मानसिक रूप से प्रताडित करता था।
दिनांक 03.11.15 को शिकायतकर्ता श्रीमती संगीता पाठक पत्नि श्री संदीप पाठक निवासी लशकर ग्वालियर द्वारा अज्ञात व्यक्ति के विरूद्व आवेदिका के नाम से फेसबुक पर आवेदिका के फोटो का उपयोग कर फर्जी फेसबुक आईडी बनाकर आपत्तिजनक मेसेज व टिप्पणी तथा आवेदिका के फोटो का दुरूपयोग कर आवेदिका तथा उसके ससुराल पक्ष को मानसिक रूप से प्रताडित करने संबंधी शिकायत की थी। उक्त शिकायत पर से अज्ञात आरोपी के विरूद्व अपराध क्र्रमांक 87/16 धारा 66सी, 67 आईटी एक्ट का प्रकरण पंजीबद्व कर विवेचना मे लिया गया।
सायबर पुलिस के द्वारा अपराध विवेचना हेतू डी0एस0पी0 आर0पी0 मिश्रा के नेतृृत्व में उ0नि0 नीलम, स0उ0नि0 राजेश बाबू राठौर ,प्र0आर0 हरनारायण शर्मा ,आर0 राधारमन त्रिपाठी ,आर0 पुष्पेन्द्र यादव ,आर0 सुभाष आर्य, आर0 दीपक माहुने, म0आर0 कविता बाथम, महिमा चौधरी की टीम गठित की गई। दौराने विवेचना फर्जी फेसबुक आईडी के यूआरएल की जानकारी फेसबुक लीगल डिपार्टेमेंट द्वारा प्राप्त की गई। प्राप्त विभिन्न आईपी एड्रेसो के अध्ययन पश्चात मोबाइल कम्पनी के आईपी एड्रेस के विभिन्न संदेही मोबाइल नंबर प्राप्त किये। विवेचना में संदेही मोबाइल नंबर के धारक प्रशांत मोहन पाठक निवासी छतरपुर का पता प्राप्त हुआ जिसके संबंध मे फरियादिया द्वारा अपने कथन मे संदेह व्यक्त किया था। आरोपी प्रशांत पाठक फरियादिया के ससुराल पक्ष का रिश्तेदार है। दिनांक 09.03.17 को आरोपी प्रशांत पाठक पुत्र श्री विजय कुमार पाठक उम्र 26 साल नि0 पुरानी आईटीआई कॉलेज के पास चौबे कोलोनी छतरपुर को गिरफ्तार किया गया। पूछताछ पर आरोपी द्वारा सिविल इंजीनियरिंग की डिग्री प्राप्त करना व प्राईवेट जॉब करना बताया गया।

नोट:- महिलायें सोशल साइट से संबंधित पासवर्ड की जानकारी अपने दोस्तो व रिश्तेदारो से शेयर न करें – आमतौर पर कोचिंग सेंन्टर, कॉलेज, जॉब सेन्टर , फेसबुक ,व्हाटसअप आदि के माध्यम से महिलाओं एवं लडकियों की व्यक्तिगत जानकारी तथा फोटोग्राफ असामाजिक तत्वो, दोस्तो तथा नजदीकी सगेसंबंधी तक पहुच जाते है। महिलायें व लडकियां स्वयं से संबंधित व्यक्तिगत जानकारी तथा फोटोग्राफ को व मोबाइल नम्बर को सोशल साइट पर शेयर न करें और यदि शेयर करे तो सिक्योरिटी फीचर का उपयोग करें। तथा सोशल साइट से संबंधित पासवर्ड अपने दोस्तो व नजदीकी रिश्तेदारी मे शेयर न करें। सरल पासवर्ड न बनाये तथा पासवर्ड में स्पेशल केरेक्टर का उपयोग करें।

,
Shares