दिल्ली :हिंसा में अब तक 10 लोगों की मौत, 4 जगहों पर कर्फ्यू

नागरिकता संशोधन कानून (CAA) को लेकर शुरू हुआ बवाल थमने का नाम नहीं ले रहा है. उत्तर पूर्वी दिल्ली में हालात इतने बिगड़ गए हैं कि एक महीने के लिए धारा 144 लगा दी गई है. वहीं हिंसक प्रदर्शन वाली 4 जगहों पर कर्फ्यू लगाया गया है. नॉर्थ ईस्ट दिल्ली में नागरिकता संशोधन कानून के नाम पर हो रही हिंसा ने उग्र शक्ल अख्तियार कर ली है. कल (सोमवार) से अब तक तोड़फोड़ और आगजनी की गई घटनाएं सामने आ चुकी हैं.

 

नॉर्थ ईस्ट दिल्ली में हुई हिंसा में अब तक 10 लोग जान गंवा चुके हैं. इसमें शहीद हेड कॉन्स्टेबल रतनलाल का नाम भी शामिल है. जबकि 2 आईपीएस अफसरों समेत 56 पुलिसकर्मी जख्मी हैं. हिंसा की घटनाओं में करीब 150 लोग घायल हुए हैं. नॉर्थ ईस्ट दिल्ली में हालात तनावपूर्ण हैं, इलाके में बड़ी तादाद में पुलिस बल तैनात है. बता दें कि आज (मंगलवार) उपद्रवियों ने कई मोटरसाइकलों को आग के हवाले कर दिया.

दिल्ली पुलिस कमिश्नर अमूल्य पटनायक ने लोगों से शांति बनाए रखने की अपील करते हुए कहा कि उपद्रवियों को बख्शा नहीं जाएगा. उन्होंने कहा कि हमारे पास पर्याप्त सुरक्षाबल है और MHA से पूरा सहयोग मिल रहा है.

 

नॉर्थ ईस्ट दिल्ली में भड़की हिंसा में 10 लोगों की मौत के बाद मौजपुर, जाफराबाद, करावलनगर और चांदबाग में कर्फ्यू लगा दिया गया है.

 

दिल्ली में हुई हिंसा में अब तक 10 लोग जान गंवा चुके हैं. इसमें शहीद हेड कॉन्स्टेबल रतनलाल का नाम भी शामिल है, जबकि 2 आईपीएस अफसरों समेत 56 पुलिसकर्मी जख्मी हैं. दिल्ली हिंसा में शहीद हेड कांस्टेबल रतन लाल की पत्नी तो गृहमंत्री अमित शाह ने पत्र लिखकर संवेदना जताई है.

 

 

 

 

,
Shares