दिग्विजय ने शिवराज सरकार को कोसा

उमरिया। प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के महासचिव दिग्विजय सिंह बांधवगढ़ विधानसभा उपचुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी सावित्री सिंह के पक्ष में चुनाव प्रचार करने पहुंचे। दिग्विजय सोमवार शाम को नरवार गांव में चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए प्रदेश की बीजेपी सरकार को जमकर कोसते नजर आए।

चुनाव के दौरान बीजेपी नेताओं द्वारा कांग्रेसियों की खरीद फरोख्त का खुलेआम आरोप भी लगाया, और साथ ही शिवराज को न सिर्फ सबसे बड़ा दलाल बताया बल्कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी झूठा करार दिया। यह अलग बात है कि दिग्विजय राजा संजय पाठक के मामले में बोलते हुए कांग्रेस पार्टी का दामन भी दागदार करके कठघरे में खड़ा कर दिया।

वहीं, दिग्विजय ने प्रेस कांफ्रेंस कर ईवीएम के बारे में कहा कि 2003 से मशीन पर मुझे भरोसा नहीं है क्योंकि बटन दबाओ, आवाज जरूर होता है लेकिन पता ही नहीं पड़ता है कि वोट कहां पड़ा गया। आज के तकनीकी युग में कोई मशीन ऐसी नहीं है कि जिसको हैक न किया जा सके। कोई भी सॉफ्टवेयर ऐसा नहीं है कि जिसको हैक न किया जा सके, खुद अजय सिंह राहुल भैया के पास उप चुनाव के लिए एक व्यक्ति आये थे। इनसे दो करोड़ रुपये मांग रहे थे कि हम आपको चुनाव जितवा देंगे। पूरे देश में अधिकतम राजनैतिक दल इसके विरोध में हैं, स्वयं लालकृष्ण आडवानी जी ने इस पर शंका जताई थी। अटेर के राज्य चुनाव आयुक्त के सामने पहला बटन दबाया तो भाजपा की पर्ची निकली, चौथा बटन दबाया तो कमल की पर्ची निकली, पांचवा बटन दबाया तो कमल की निकली, जो प्रेस के सामने दिखाया गया उसमें ही गलत। इसीलिए आज पूरे देश में ईवीएम के प्रति शंका पैदा हो गई है।

,
Shares