ट्रिपल तलाक महिलाओं के अधिकार पर हमला-योगी

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ट्रिपल तलाक के मामले पर बड़ा बयान दिया है। योगी ने सोमवार को लखनऊ में एक कार्यक्रम के दौरान कहा कि ट्रिपल तलाक महिलाओं के अधिकार पर हमला है लेकिन कुछ लोगों के मुंह क्यों बंद हैं। योगी ने इस मामले पर द्रौपदी के चीरहरण का उदाहरण दिया।

सीएम योगी लखनऊ में पूर्व प्रधानमंत्री चंद्रशेखर की जयंती पर किताब विमोचन के कार्यक्रम में बोल रहे थे। योगी आदित्यनाथ ने ट्रिपल तलाक के मुद्दे पर बोलते हुए कहा कि देश की समस्या पर कुछ लोगों के मुंह बंद हैं। तीन तलाक पर कुछ लोगों ने अपने मुंह को बंद कर रखा है। कश्मीर की समस्या हो या पंजाब की समस्या हो या फिर श्रीलंका की समस्या हो।

उन्होंने कहा कि देश अगर एक है तो देश में कॉमन सिविल कोड क्यों नहीं है। संविधान के दायरे में रहकर राजनीति होनी चाहिए। चंद्रशेखर समान कानून के सहयोगी थे।योगी ने कहा कि जो लोग इस मुद्दे पर चुप हैं वह भी अपराधी जैसे हैं। योगी ने चंद्रशेखर की जमकर तारीफ की। कहा कि पूर्व पीएम चंद्रशेखर ने कश्मीर के जाने पर एकता जाने की बात की थी, हमनें उनके अनेक रूपों को देखा है।

योगी बोले कि चंद्रेशखर में राष्ट्र की समस्याओं को दूर करने की वेदना थी, चंद्रशेखर समाजवादी होते हुए भी आध्यात्मिक थे। योगी ने कहा कि चंद्रशेखर ने स्वदेशी आंदोलन को काफी बल दिया था। सीएम योगी ने कहा विचारधारा कोई भी हो, लेकिन सभी का लक्ष्य लोक कल्याण ही होना चाहिए। चंद्रशेखर जी में कड़वे सच को बोलने का साहस था। उन्होंने कहा कि चंद्रशेखर एक थे, लेकिन कई विचारधाराओं को नेतृत्व करते थे। लोग चंद्रशेखर के बारे में 10 तरह की बातें करते हैं, लेकिन अगर वह उनकी बातों की गहराहियों को जानने का प्रयास करेंगे तो उन्हें सच्चाई का पता चलेगा।

विधानसभा अध्यक्ष हृदय नारायण ने दीक्षित ने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री चन्द्रशेखर सिंह आधुनिक भारत के सांसदों में विरले थे। वह किसी विधायक के सम्मान में नहीं उस विधानसभा की जनता के सम्मान में खड़े होते थे। उन्होंने कहा कि वे कांग्रेस में रहते हुए इंदिरा गाँधी की सत्ता के खिलाफ खड़े हुए। इस मौके पर पूर्व मंत्री व विधायक रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भैया, एमएलसी यशवंत सिंह, कुलदीप सिंह सेंगर समेत कई लोग उपस्थित रहे।

,
Shares