web page hit counter

छत पर उगा पीपल का पेड़ उखाड़ने से पहले जान लें ये नियम

पीपल के पेड़ को काफी पूजनीय माना गया है। कहा जाता है कि भगवान कृष्ण ने अर्जुन को दिए अपने उपदेश में खुद वृक्षों में पीपल का पेड़ बताया था। ज्योतिष शास्त्र के मुताबिक पीपल के पेड़ पर भी देवी-देवताओं का वास होता है।

अपने अनेक गुणों की वजह से पीपल के पेड़ को बाकी सभी वृक्षों की तुलना में सर्वश्रेष्ठ माना गया है। माना जाता है कि पीपल के पेड़ की पूजा करने से व्यक्ति के सभी संकट दूर हो जाते हैं। पितृ दोष से छुटकारा पाने के लिए ज्योतिष शास्त्र में पीपल के पेड़ पर जल चढ़ाने का उपाय बताया गया है।

घर में या घर के बाहर लगा पीपल का पेड़ अशुभ माना जाता है। इसे समय से हटाना ही उचित होता है। कहा जाता है कि घर के अंदर या बाहर उग रहा पीपल का पेड़ आर्थिक संकट पैदा करता है। इसके साथ ही घर के सदस्य के रोगों से पीड़ित होना का भी कारण बनता है। ऐसे में घर से पीपल के उखाड़ने में ही भलाई है, लेकिन इसे हटाने से पहले कुछ नियम जान लें।

ध्यान रखें ये बातें

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार अगर घर के बाहर या अंदर पीपल का पेड़ उखाड़ना चाहते हैं, तो 45 दिन तक उस पेड़ की पूजा-अर्चना करनी चाहिए। पीपल के पेड़ की पूजा के बाद उसमें जल अर्पित करते समय जल में एक चम्मच दूध मिलाएं और जड़ में अर्पित कर दें। साथ ही, एक दीपक भी जलाएं। 45 दिन पूरे होने के बाद पीपल के पौधे को अपने घर से हटा दें और जड़ कहीं ऐसी जगह लगाएं जहां पर ज्यादा स्थान हो।

करें ये उपाय

पीपल के पेड़ को हटाने से लगने वाले दोष से बचने के लिए बताए गए उपाय के साथ ही पेड़ को हटाएं। इससे घर भी वास्तु दोष से मुक्त होता है। वहीं व्यक्ति को किसी काम में बाधाओं का सामना नहीं करना पड़ेगा। अगर आपके घर के आसपास कोई बड़ा पीपल का पेड़ है, जिसे काटा नहीं जा सकता और उसकी छाया आपके घर पर आ रही है, तो इससे व्यक्ति को आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ता है। इसके नकारात्मक प्रभाव से बचने के लिए पेड़ की नियमित रूप से पूजा करनी चाहिए। इससे जीवन में आने वाले संकटों का नाश होता है।sabharnaiduniya