खेत हुए दो सीएम, दिग्गज भी हारे

नई दिल्ली, 11 मार्च । उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब, गोवा और मणिपुर राज्यों के विधानसभा चुनाव में इस बार मुख्यमंत्रियों समेत कई आला नेताओं को भी हार का मुंह देखना पड़ा। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री हरीश रावत को दोनों सीटों पर पटखनी खानी पड़ी। रावत हरिद्वार ग्रामीण और किच्छा विधानसभा सीटों पर पराजित हुए। गोवा के मुख्यमंत्री लक्ष्मीकांत पारसेकर को भी मुंह की खानी पड़ी। पंजाब के मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल तो अपनी परंपरागत सीट लंबी पर प्रतिष्ठा बचाने में सफल रहे पर उनको सत्ता से कांग्रेस के हाथों बेदखल होना पड़ा। वहीं, बादल के मुकाबले लंबी सीट से ताल ठोंकने वाले कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह को इस सीट पर मात खानी पड़ी। हालांकि, वह अपनी परंपरागत सीट पटियाला पर परचम लहराने में कामयाब रहे। उधर, मणिपुर में मुख्यमंत्री ओबराम इबोबी सिंह ने थाऊबल सीट पर सामाजिक कार्यकर्ता शर्मिला इरोम को आसानी से चित कर दिया। गोवा के पूर्व मुख्यमंत्री दिगंबर कामत ने मारगुआ सीट पर जीत हासिल की। जबकि उपमुख्यमंत्री फ्रांसिस डिसूजा ने मापूसा सीट से जीत हासिल की। गोवा के छह बार मुख्यमंत्री रहे प्रताप सिंह राणे इस बार भी पोरिम सीट पर झंडा फहराने में सफल रहे। वहीं, पंजाब के उपमुख्यमंत्री सुखवीर सिंह बादल भी जलालाबाद सीट पर आम आदमी पार्टी के उम्मीदवार व सांसद भगवंत मान को पटखनी दी। दिग्गज भी हुए चित पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव में कई दिग्गज नेताओं को भी धराशायी होना पड़ा। बड़े राजनीतिक घराने के नेताओं को भी मुंह की खानी पड़ी। मुलायम सिंह यादव ती बहू और लखनऊ कैंट से सपा उम्मीदवार अपर्णा यादव को भाजपा की रीता बहुगुणा जोशी ने पराजित किया। वहीं, उत्तर प्रदेश भाजपा के पूर्व अध्यक्ष लक्ष्मीकांत बाजपेयी को मेरठ सीट पर हार का स्वाद चखना पड़ा। मथुरा सीट पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता व 4 बार से विधायक रहे प्रदीप माथुर को भी इस चुनाव में मात खानी पड़ी। भाजपा के राष्ट्रीय सचिव श्रीकांत शर्मा ने इस सीट पर माथुर को भारी मतों से हराया। वहीं, अमेठी सीट पर कांग्रेस नेता संजय सिंह की दूसरी पत्नी अमिता सिंह को पहली पत्नी गरिमा सिंह के हाथों पटखनी मिली। इस सीट से सपा सरकार के मंत्री गायत्री प्रजापति भी मैदान में थे उनको भी हार का स्वाद चखना पड़ा। नकुड़ सीट से कांग्रेस नेता इमरान मसूद भी पराजित हुए तो कैराना सीट पर भाजपा सांसद हुकुम सिंह की बेटी मृगांका सिंह को पराजय हासिल हुई। इसके अलावा अखिलेश कैबिनेट के कई मंत्री भी हार गए। वहीं, उत्तराखंड में कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष किशोर उपाध्याय को भी हार का सामना करना पड़ा है। पंजाब में भाजपा के वरिष्ठ नेता तरूण चुंग और शिरोमणि अकाली दल के जेजे सिंह को भी हार का सामना करना पड़ा।

,
Shares