इंदौर एयरपोर्ट पर यात्री ने की धक्का-मुक्की, प्रेग्नेंट महिला सिपाही के पेट में मारी लात

इंदौर. अपने परिवार के साथ दिल्ली से आई एक महिला यात्री ने देवी अहिल्या विमानतल पर सुरक्षा में तैनात एक महिला आरक्षक के साथ हाथापाई की। महिला आरक्षक को आठ महीने का गर्भ है। हाथापाई के दौरान महिला यात्री ने उसके पेट पर लात भी मारी। इसके बाद यहां तैनात अन्य सुरक्षाकर्मी पहुंचे और उसे रोका। पूरे मामले की शिकायत आरक्षक ने एरोड्रम पुलिस से की है।..

विमानतल से मिली जानकारी के मुताबिक इंडिगो एयरलाइंस की दिल्ली से दोपहर 12.30 बजे इंदौर आने वाली फ्लाइट से प्रियंका पलगोत्रा अपने पति पारस और माता-पिता के साथ इंदौर आई थीं। उन्हें यहां से दर्शन करने के लिए उज्जैन जाना था। फ्लाइट से उतरने के बाद वे 12.40 बजे अराइवल गेट से बाहर निकल गईं, लेकिन उनके पति अंदर ही थे। इस पर वे वापस अंदर जाने लगीं तो अराइवल गेट पर तैनात आरक्षक सुरेंद्र ने उन्हें रोका, लेकिन वे नहीं रुकीं और विमानतल के भीतर तक पहुंच गईं। वहां तैनात सीआईएसएफ की महिला आरक्षक ज्योति चौहान ने पुलिस को बताया कि जब उन्होंने प्रियंका से कहा- वे अंदर नहीं जा सकतीं और रोके जाने के बाद भी क्यों अंदर आ रही हैं तो प्रियंका बहस करने लगी और अंदर जाने के लिए विवाद करने लगी। ज्योति ने बताया कि इस दौरान प्रियंका ने उनके साथ हाथापाई की और उनके पेट में लात मार दी। उन्हें आठ माह का गर्भ था। विवाद होता देख वहां तैनात अन्य सुरक्षाकर्मी भी आ गए और उन्हें रोका। इस दौरान उनके पति भी आ गए। विवाद बढ़ने पर सीआईएसएफ अधिकारियों ने पुलिस को सूचना देकर बुलाया। थाने जाकर ज्योति ने पुलिस से मारपीट और कार्य में बाधा पहुंचाने की शिकायत की।..
आरक्षक पर अभद्रता का आरोप…
उधर, प्रियंका ने महिला आरक्षक ज्योति के खिलाफ हाथापाई करने और अभद्र व्यवहार करने की लिखित शिकायत की। महिला यात्री को परिवार के साथ रात को ही दिल्ली भी लौटना था, प्रकरण दर्ज होने के कारण शाम को ही कोर्ट से उनकी जमानत भी करवाई गई।

,
Shares