Untitled

 

 

भोपाल। राज्य सरकार ने टैक्स कलेक्शन से अपना राजस्व बढ़ाने के लिए एक नई योजना लागू की है। वाणिज्यिक कर विभाग ने मप्र बिल संग्रहण व पुरस्कार योजना 2018 के तहत सामान खरीदकर बिल लेने वाले उपभोक्ताओं को पुरस्कार देने की घोषणा की है।

मप्र में 200 रुपए से ज्यादा की खरीदी कर उपभोक्ता बिल को वाणिज्यिक कर विभाग की वेबसाइट पर अपना नाम, पता, मोबाइल नंबर बिल स्कैन कर अपलोड करना होगा। वाणिज्यिक कर विभाग हर तीन महीने में विजेता उपभोक्ताओं के नाम घोषित करेगा।

विजेता उपभोक्ताओं के नाम कंप्यूटराइज्ड सिस्टम से तय होंगे। पहले पांच विजेताओं को दस-दस हजार, दूसरे दस विजेताओं को पांच-पांच हजार, तीसरे 15 विजेताओं को तीन-तीन हजार रुपए का इनाम दिया जाएगा।

दअरसल, राज्य सरकार की वित्तीय स्थिति ठीक नहीं है। टैक्स कलेक्शन बढ़ाने और टैक्स चोरी रोकने से उसके खजाने में और पैसा आ सकता है। इसी उद्देश्य से यह योजना लागू की गई है। यह बिल मप्र में ही जनरेट होना चाहिए। यह योजना उपभोक्ता द्वारा खरीदे गए सामान और सेवा दोनों के लिए होगी। पुरस्कार लेते समय उपभोक्ता को बिल की मूल प्रति दिखाना होगी।

Shares