हिना कांवरे: हादसा था या नक्सलियों की साजिश, 2 बार धमकी भी दी थी

 

हिना कांवरे: हादसा था या नक्सलियों की साजिश, 2 बार धमकी भी दी थी

भोपाल। विधानसभा उपाध्यक्ष हिना कांवरे के कारकेड के एक्सीडेंट से पहले 2 धमकी भरे पत्र मिले थे। ये पत्र नक्सली संगठन संग्राम दल के वन प्रबंधक के नाम से लिखे गए थे और उसमें 20 लाख रुपए देने वरना अंजाम भुगतने की धमकी थी। हिना ने इसकी शिकायत एसपी बालाघाट से की थी। अब पुलिस मुख्यालय ने आईजी बालाघाट को तलब किया है कि हिना की शिकायत पर क्या कार्रवाई की गयी थी।

ये चिट्ठियां 3 और 8 जनवरी को लिखी गयी थीं। ये नक्सलियों के नाम से थे और उनमें हिना से 14 जनवरी तक 20 लाख रुपए देने की मांग की गयी थी। पैसे नहीं देने पर 16 जनवरी को आख़िरी तारीख होने की बात लिखी थी। हिना ने बालाघाट एसपी से इस पूरे मामले की शिकायत की थी। ऐसा ही धमकी भरा पत्र बैहर से कांग्रेस विधायक संजय उइके को भी मिला है।

ये है धमकी भरा पत्र…

प्रिय…

बंधु हिना कांवरे विधायक विधानसभा क्षेत्र किरनापुर ग्राम सोनपुरी पोस्ट सोनपुरी तहसील किरनापुर जिला बालाघाट (M.P.)

सलंग्न निवेदन लगता है कि हमारा नोटिस तुम्हारे तक सही तरीके तक नहीं पहुंचा। ये हमारा चौथा नोटिस है.. क्या हमें ###समझ रहे हो। क्या अभी तक हमारी खुराक पहुंची नहीं। क्या बात है, हमारी सीधी वॉर्निंग 14 जनवरी तक हमारा खर्चा पहुंच जाना चाहिए… वरना 16 जनवरी तुम्हारी आखिरी तारीख होगी। हमारा खर्च 20 लाख रुपए 14 जनवरी को पहुंच जाना चाहिए। हमारा पता बालाघाट से बैहर रोड गागुल पारा रोड के किनारे रखना होगा। जगह में काला झंडा निशाने पर गाड़ देना होगा। हमारी मांग पूरी करो वरना तुम्हारा क्षेत्र महंगा पड़ेगा, तुम खुद समझदार हो हम से बुरा कोई नहीं होगा…

हमारा आखरी नोटिस है…

इसके बाद नोटिस नहीं, सीधे दरवाजे पर दस्तक देंगे…

याद रखें 14 जनवरी

धन्यवाद

वन प्रबंधक

माओवादी (नक्सलवादी)

संग्राम दलम

लाल सलाम

,
Shares