सुषमा स्वराज ने किया राजनीति से सन्यास का ऐलान

 

 

भोपाल। विदिशा से सांसद एवं भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने बड़ा ऐलान किया है। उन्होंने इंदौर में कहा कि वो 2019 का लोकसभा चुनाव नहीं लड़ेंगी। उन्होंने कहा कि मैने मन बना लिया में अगला चुनाव नही लड़ूंगी, पार्टी को मैने अपनी इच्छा बता दी है।
नरेंद्र मोदी से नाराज हैं सुषमा स्वराज

सूत्रों का कहना है कि सुषमा स्वराज, पीएम नरेंद्र मोदी से नाराज हैं। दिल्ली की पहली महिला मुख्यमंत्री और अटल बिहारी सरकार में कैबिनेट मंत्री रहीं सुषमा स्वराज को अपना काम करने की आदत है परंतु नरेंद्र मोदी सरकार में वो बस नाम की विदेश मंत्री बनकर रह गईं। पार्टी की संस्कारित सिपाही हैं इसलिए बगावत नहीं की और ना ही कोई निगेटिव बयान दिया परंतु किनारे हो जाना बेहतर समझा।

पीएम पद की दावेदार थीं सुषमा स्वराज

भाजपा की सबसे लोकप्रिय महिला नेता सुषमा स्वराज भी पीएम नरेंद्र मोदी की तरह आडवाणी टीम से आतीं हैं। 2014 में वो भाजपा की ओर से पीएम प्रत्याशी की प्रबल दावेदार थीं। उन्हे केंद्र की राजनीति का अच्छा अनुभव भी था और वो प्रमाणित कर चुकीं थीं कि वो एक बेहतर प्रशासक हैं। उन पर कभी कोई दाग नहीं लगा लेकिन अचानक नरेंद्र मोदी की लहर शुरू हो गई और देखते ही देखते सबकुछ बदल गया।

,
Shares