सागर महापौर पर आरोप तय

भोपाल, 03 मार्च । सागर नगर निगम महापौर अभर दर्रे की मुसीबतें बढ़ गई हैं। कमीशन की डील का वायरल हुए ऑडियों की जांच पूरी हो गई हैं और अभय पर लगे आरोपों को सही साबित हो रहे हैं। जांच में नगरीय प्रशासन विभाग आयुक्त विवेक अग्रवाल ने आरोपों को सही पाते हुए सागर महापौर अभय दर्रे से सभी वित्तीय और प्रशासनिक अधिकार छीन लिए गए हैं। दरअसल, पिछले दिनों सागर महापौर अभय दरे और ठेकेदार के बीच कमीशन की डील का एक ऑडियो वायरल हुआ था जिसमें महापौर ठेकेदार से 25 प्रतिशत कमीशन पर बात कर रहे थे। ऑडियों सामने आने के बाद तेजी से सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। मामले में सफाई देते महापौर ने इस ऑडियो को नकली बताया था वही दूसरी तरफ ठेकेदार ने भुगतान के एवज में कमीशन मांगे जाने का आरोप लगाते हुए ऑडियो को असली बताया था। मामला बढ़ने के बाद सीएम ने जांच के आदेश दिए थे और विवेक अग्रवाल को मामले की जांच की जिम्मेदारी सौंपी थी। इस जांच में नगरीय प्रशासन विभाग के आयुक्त विवेक अग्रवाल ने ऑडियो को सही बताया हैं। अब आर्थिक अपराध ब्यूरो मामले में महापौर अभय दरे के खिलाफ एफआईआर दर्ज करेगी। जिसकी रिपोर्ट के बाद मप्र शासन ने मामले की जांच आर्थिक अपराध ब्यूरो को सौंपी हैं। जांच रिपोर्ट सामने आने के बाद महापौर अभय दरे से उनके वित्तीय और प्रशासनिक अधिकार छीन लिए गए हैं। वहीं भारतीय जनता पार्टी में भी अभय दरे को लेकर मंथन चल रहा हैं। सूत्रों के अनुसार भाजपा प्रदेश अध्यक्ष नन्द कुमार सिंह चौहान ने दरे से इस्तीफे मांगा है। अब उन पर बर्खास्तगी की तलवार लटकी हुई हैं।

,
Shares