संघ में मप्र से जुड़े बड़े परिवर्तन हुए

भोपाल, 23 मार्च । राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की अखि‍ल भारतीय प्रतिनिधि‍ सभा की बैठक में संघ के मध्यप्रदेश के तीन प्रान्तों मध्यभारत, महाकोशल और मालवा में दायित्वों को लेकर नए फेर बदल हुए हैं। नए पदों में जहां मालवा प्रांत प्रचारक को अखि‍ल भारतीय जिम्मा सौंपा गया है वहीं, महाकौशल के लम्बे समय तक प्रांत प्रचारक रहे राजकुमार मटाले को भी अखि‍लभारतीय टोली में लिया गया है। वहीं अब तक जो छत्तीसगढ़ प्रान्त प्रचारक थे उन्हें मध्यक्षेत्र में सह प्रचारक का दायित्व मिला है। संघ सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ ने अपने पदाधिकारियों के कामकाज में बदलाव करते हुए मालवा के प्रांत प्रचारक पराग अभयंकर को अखिल भारतीय सेवा प्रमुख बनाया गया है। वहीं राजकुमार मटाले को इनके सहयोगी के रूप में जोड़कर उन्हें अखि‍ल भारतीय सह सेवाप्रमुख का दायित्व सौंपा है। मटाले के पास अब तक क्षेत्र प्रचारक प्रमुख का दायित्व था। वहीं पराग के स्थान पर मालवा प्रांत के अब तक सह प्रांत प्रचारक रहे डॉ. श्रीकांत देखेंगे, वे मालवा के नए प्रांत प्रचारक घोषि‍त किए गए हैं तथा सहप्रान्त प्रचारक के रूप में मालवा को नए प्रचारक बलिराम पटेल मिले हैं। उनका मुख्यालय पहले उज्जैन था जो अब इंदौर कर दिया गया है। इसी के साथ मध्यक्षेत्र में क्षेत्र प्रचारक अरुण जैन के साथ उनके सहयोगी सह क्षेत्र प्रचारक के रूप में छत्तीसगढ़ प्रांत के प्रचारक दीपक विसपुते को नया दायित्व मिला है। इन का केंद्र अब तक रायपुर था जो अब बदलकर जबलपुर या इंदौर में से कहीं एक स्थान पर किए जाने की संभावना जताई जा रही है। वहीं अखि‍ल भारतीय पदाधि‍कारियों में जे नन्दकुमार जो अब तक राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के अभा सह प्रचारप्रमुख थे, उन्हें अब प्रज्ञा प्रवाह का अखि‍ल भारतीय संयोजक बनाया गया है। बतादें कि प्रज्ञा प्रवाह संघ का बौद्धि‍क विमर्श के लिए विद्वानों का केंद्र है, जिसका कि श्री नन्दकुमार पहले से ही पालक पदाधि‍कारी के रूप में कार्य देख रहे थे । अब नई व्यवस्था के बाद पूरी तरह इस कार्य को वे देखेंगे। उनके स्थान पर उत्तर क्षेत्र के क्षेत्रीय प्रचार प्रमुख रहे नरेंद्र ठाकुर को अखिल भारतीय सह प्रचार प्रमुख बनाया गया है। जे नन्दकुमार का स्थान परिवर्तन अभी नहीं किया गया है । अभी उनका मुख्य निवास भोपाल का समिधा कार्यलय ही होगा। इसके अलावा एक अहम फैसला मध्यभारत प्रांत को लेकर भी सामने आया है जिसमे कि अब प्रांत प्रचारक अशोक पोरवाल के साथ सह प्रांत प्रचारक के रूप में राजमोहन को जोड़ा गया है। इनके निवास केंद्र के बारे में संघ सूत्र बताते हैं कि पोरवाल का केंद्र भोपाल का समिधा कार्यालय यथावत रहेगा तो वहीं राजमोहन ग्वालियर कार्यालय को अपना निवास केंद्र बनाएंगे। 

Shares