संघ प्रमुख की स्वयंसेवकों से अपील, स्वयं और समाज से कराएं लॉकडाउन का पालन .

 

नई दिल्ली, । राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के सरसंघचालक मोहन राव भागवत ने बुधवार को चैत्र शुक्ल प्रतिपदा युगाब्द 5122 की शुभकामनाएं देते हुए अपने स्वयंसेवकों से देश में जारी 21 दिन के लॉकडाउन का पालन करने और समाज को इसके लिए प्रेरित करने का आह्वान किया है। वर्ष प्रतिपदा के दिन राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के संस्थापक डॉ केशव राव बलिराम हेडगेवार की जयंती भी होती है।

मोहन भागवत ने सभी स्वयंसेवकों को उनकी रीति-नीति का ध्यान कराते हुए कहा कि स्वयंसेवक सामाजिक अनुशासन का पालन करते हुए राष्ट्रहित में कार्य करता है और आने वाले कुछ दिनों में भी इसी सामाजिक अनुशासन का पालन करना है।

सरसंघचालक ने स्वयंसेवकों से कहा कि पहले भी प्रतिबंधों के चलते शाखा नहीं लग पाई हैं, उस दौरान भी संघ का कार्य जारी रहा है। इसी तरह से इस कोरोना वायरस के संकट से जीतने के लिए सभी स्वयंसेवक परिवार व आस-पड़ोस में एकत्र होकर शाखा लगा सकते हैं।

संघ प्रमुख ने कहा कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ का कार्य तत्व को बनाए रखते हुए परिस्थिति के अनुसार नई शैली को अपनाना है। साथ ही मूल संकल्प को ध्यान में रखते हुए अपने उदाहरण से सबका मन देश और समाज हित से जोड़ना है। यह कार्य संघ का स्वयंसेवक हर समय जारी रख सकता है। उन्होंने कहा कि संघ का काम व्यक्ति निर्माण है और उसके माध्यम से समाज में संस्कारों का प्रसार करना है।

,
Shares