श्रीलंका में अच्छा प्रदर्शन करेंगे तेज गेंदबाज: अरुण

bharath-arunकोलंबो। टीम इंडिया के गेंदबाजी कोच भरत अरुण को विश्वास है कि वरुण एरोन और उमेश यादव श्रीलंका के खिलाफ तीन टेस्ट मैचों की सीरीज में गति बनाए रखने के साथ ही सटीक गेंदबाजी करने की चुनौती स्वीकार करेंगे। पहला टेस्ट 12 अगस्त से गाले में शुरू होगा। गुरुवार से भारतीय टीम दौरे का एकमात्र अभ्यास मैच खेलने उतरेगा। अरुण ने कहा, ‘वरुण और उमेश की गेंदों की तेजी में कमी नहीं है। यह गलत सोच है जो तेज गेंदबाजी करते हैं वे गलतियां करते हैं। यह अच्छे एक्शन और विचार प्रक्रिया पर निर्भर करता है।

आप तेज गेंदबाजी के साथ सटीकता भी ला सकते हैं। इसलिए वरुण व उमेश के लिए चुनौती है कि वे अपनी तेजी से समझौता नहीं करके अधिक सटीक गेंदबाजी करें। भुवनेश्वर कुमार के साथ फॉर्म की कोई परेशानी नहीं थी। वे बाएं हाथ के बल्लेबाजों के लिए गेंद को अंदर की तरफ लाते थे और उन्हें इसमें परेशानी हो रही थी। सवाल गेंद को छोड़ने के समय को लेकर था। उन्होंने कड़ी मेहनत की और इससे काफी अंतर पैदा हुआ। वे फिर से गेंद को अंदर लाने लग गए हैं।

इससे वे मजबूत गेंदबाज बन गए हैं। हमारे गेंदबाजी आक्रमण में काफी संभावनाएं हैं। हमारे पास दो ऐसे गेंदबाज हैं जो लगातार 145 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से गेंदबाजी कर सकते हैं। हमारे पास ईशांत शर्मा हैं जो काफी अनुभवी हैं और पिच से उछाल हासिल कर सकते हैं।’ क्रिकेट की अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें अरुण ने टेस्ट मैच जीतने के लिए कप्तान विराट कोहली की पांच गेंदबाजों के साथ खेलने की नीति का भी पक्ष लिया। अरुण ने कहा, ‘यदि आप विश्व क्रिकेट को देखो तो जिस भी टेस्ट टीम ने दबदबा बनाया, वह पांच गेंदबाजों के साथ खेली। हमारे निचले क्रम को इस चुनौती पर खरा उतरने की जरुरत है।

Shares