शासकीय नौकरी में खिलाड़ियों को दो प्रतिशत आरक्षण का प्रावधान:खेल एवं युवा कल्याण मंत्री 

भोपाल:

प्रदेश के खेल एवं युवा कल्याण मंत्री  जीतू पटवारी ने विधानसभा में विभागीय बजट की अनुदान माँगों पर हुई चर्चा का जवाब देते हुए कहा कि  प्रदेश में पहली बार ओलम्पिक, विश्व कप, एशियन गेम्स में पदक प्राप्त करने पर पुरस्कार राशि निश्चित की गई है। इसमें अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर स्वर्ण पदक हासिल करने पर 2 करोड़ रूपये की प्रोत्साहन राशि का प्रावधान किया गया। अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर  हर विधानसभा क्षेत्र में विधायक खेल प्रोत्साहन योजना के तहत हर विधानसभा क्षेत्र में ऐसे शासकीय एवं निजी संस्थाओं जो इंडोर खेल (बेडमिंटन, जूडो, कराटे, ताइक्वाडो, कुश्ती, फेंसिंग, शतरंज) आदि का संचालन कर रही हो, उसे आधारभूत संरचना और खेल गतिविधियों के प्रभावी संचालन के लिये क्षेत्रीय विधायक को प्रतिवर्ष 5 लाख रूपये का प्रावधान किया गया है।
उन्होंने जानकारी दी कि खेल अकादमियों के खिलाड़ियों को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर बेहतर प्रदर्शन के लिये सायकोलाजिस्ट, फिजियोलॉजिस्ट, फिजियोथैरेपिस्ट, डाइटीशियन आदि स्पोर्टस साइंस विशेषज्ञों की नियुक्ति का निर्णय लिया गया है।  पटवारी ने बताया कि नरसिंहपुर में वर्तमान में संचालित व्हॉलीबाल हॉस्टल का उन्नयन कर उसे अकादमी के रूप में स्थापित किया जायेगा। उन्होंने बताया कि फुटबाल खेल को प्रोत्साहित करने के लिये छिंदवाड़ा में अंतर्राष्ट्रीय स्तर की फुटबाल अकादमी स्थापित करने का निर्णय लिया गया। इसी प्रकार इंदौर में स्वीमिंग और कुश्ती अकादमी भी स्थापित की जा रही है। रीवा में आउटडोर स्टेडियम के 10 करोड़ रूपये का प्रावधान किया गया है। जबलपुर में रोइंग काम्पलेक्स को अंतर्राष्ट्रीय स्तर का बनाया जायेगा। भोपाल में बरखेड़ा नाथू में भव्य स्टेडियम बनाया जायेगा। इसके लिये 10 करोड़ का प्रावधान किया गया है।
खेल मंत्री ने बताया कि खेल विभाग द्वारा पीपीपी के अंतर्गत भोपाल, इंदौर, जबलपुर एवं ग्वालियर में अंतर्राष्ट्रीय स्तर की खेल अधोसंरचना के लिये भूमि चिन्हित की गई है। खेल मंत्री ने कहा कि खेलों और खिलाड़ियों के प्रोत्साहन राशि में कई गुना वृद्धि की गई है। जिला स्तरीय प्रतियोगिता के आयोजन में दी जाने वाली अनुदान राशि 10 हजार रूपये बढ़ाकर 50 हजार रूपये कर दी गई है। राज्य स्तरीय प्रतियोगिता के लिये 50 हजार से 2 लाख, क्षेत्रीय एवं जोनल प्रतियोगिता 50 हजार से 5 लाख, सब जूनियर राष्ट्रीय प्रतियोगिता के लिये डेढ़ लाख से 10 लाख, जूनियर राष्ट्रीय के लिये 1.25 लाख से 10 लाख, सीनियर राष्ट्रीय के लिये एक लाख से 10 लाख, सब जूनियर अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिता के लिये 2 लाख से बढ़ाकर 25 लाख का प्रावधान वर्तमान में किया गया। इसी प्रकार जूनियर अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिता में 1.75 लाख की राशि को बढ़ाकर 25 लाख रूपये और सीनियर राष्ट्रीय प्रतियोगिता के आयोजन के लिये डेढ़ लाख को बढ़ाकर 25 लाख रूपये किया गया। खेल मंत्री ने कहा कि प्रदेश में वर्ल्ड चैम्पियनशिप के आयोजन के लिये 50 लाख रूपये का प्रावधान किया गया है। श्री पटवारी ने बताया कि नरसिंहपुर में 10 करोड़ रूपये की लागत से हॉकी टर्फ की स्थापना की जायेगी।
मंत्री  जीतू पटवारी के जवाब के बाद सदन ने उच्च शिक्षा विभाग के लिये 2342 करोड़ 76 लाख 78 हजार और खेल एवं युवा कल्याण विभाग के लिये 200 करोड़ 22 लाख रूपये की अनुदान माँगों को ध्वनिमत से पारित कर दिया।

,
Shares