योगी का गौ तस्करी पर तत्काल पूर्ण प्रतिबन्ध लगाने का निर्देश

 

लखनऊ, 22 मार्च । मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी बुधवार को सचिवालय एनेक्सी में पान की पीक देखकर नाराज हो गए। उन्होंने इस तरह गन्दगी पर कड़ी नाराजगी जताई और सरकारी दफ्तरों में पान, पान मसाला व गुटखा खाने पर प्रतिबन्ध लगा दिया। एनेक्सी में मुख्य सचिव और प्रमुख सचिव गृह सहित सहित कई वरिष्ठ अधिकारियों के दफ्तर हैं। ऐसे में यहां गन्दगी मुख्यमंत्री को गंवारा नहीं हुई। उन्होंने कहा कि सरकारी कर्मचारी स्वस्थ एवं स्वच्छ वातावरण में काम करें।

इसके पहले मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी ने लोकभवन के ऑडिटोरियम में सभी वरिष्ठ अधिकारियों के साथ मीटिंग की और सफाई के लिए शपथ दिलाई थी। इस शपथ में यह शर्त भी शामिल थी शपथ लेने वाला हर अफसर 100 और लोगों को शपथ दिलाएगा और हर हफ्ते दो घण्टे सफाई के लिए श्रम दान करेगा।

खास बात है कि वर्ष 2014 में प्रधानमंत्री बनने के बाद नरेन्द्र मोदी ने वाराणसी में अपनी पहली सभा में जो भाषण दिया था उसमें वाराणसी के लोगों से गन्दगी नहीं करने और पान खाकर नहीं थूकने का वादा लिया था। वहीं उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पान मसाला, पॉलीथीन को सरकारी कार्यालयों में बन्द करने का निर्देश दिया है।

Shares