महिलाओं-बालिकाओं को विकास के हरसंभव अवसर उपलब्ध कराएंगे : सीएम

सीहोर, 28 मार्च । नर्मदा सेवा यात्रा मंगलवार को सुबह ग्राम जैत से रवाना होकर पास के गांव नांदनेर पहुंची। यात्रा के 101वें दिन नांदनेर में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान यात्रा में शामिल हुए। इस अवसर पर नांदनेर में आयोजित जनसंवाद कार्यक्रम में उन्होंने कहा कि समाज में महिलाओं एवं बालिकाओं को आगे बढऩे के लिये हरसंभव अवसर उपलब्ध कराये जायेंगे। महिलाओं को नौकरियों और स्थानीय निर्वाचन में आरक्षण देकर उन्हें आत्म निर्भर बनाने में मदद की जा रही है। कार्यक्रम में मध्प्रदेश वेयर हाउस कार्पोरेशन के अध्यक्ष राजेन्द्र सिंह राजपूत, मध्यप्रदेश वन विकास निगम के अध्यक्ष गुरूप्रसाद शर्मा, मध्यप्रदेश खनिज विकास निगम के अध्यक्ष शिव चौबे व मार्कफेड के अध्यक्ष रमाकांत भार्गव, साध्वी प्रज्ञा भारती, विधायक सोहागपुर विजयपाल सिंह भी उपस्थित थे। मुख्यमंत्री कहा कि नर्मदा सेवा यात्रा का मूल उद्धेश्य जल एवं पर्यावरण संरक्षण के प्रति लोगों में जागरूकता लाना है। इसके साथ ही नशे से होने वाले दुष्प्रभावों और स्वच्छता के प्रति जनजागरण लाने और बेटियों के सम्मान को बनाये रखने के लिये नर्मदा सेवा यात्रा गत 11 दिसम्बर को प्रारंभ की गई थी। मुख्यमंत्री ने कहा कि नर्मदा नदी के दोनों तटों पर सघन वृक्षारोपण कराया जायेगा। दोनों तटों से पांच-पांच किलोमीटर क्षेत्र में शराब की दुकान आगामी एक अप्रैल से बंद हो जायेंगी। नर्मदा तट पर बसे शहरों में सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट लगाकर गंदे पानी को नर्मदा में मिलने से रोकने की व्यवस्था की जाएगी। उन्होंने कहा कि नर्मदा तट के वृक्ष कटने से नर्मदा में जलस्तर घटता जा रहा है यदि अभी प्रयास नहीं किया गया तो क्षिप्रा व बेतवा जैसी स्थिति नर्मदा नदी की भी हो जायेगी। इसके अलावा नर्मदा सेवा यात्रा का सीहोर जिले के ग्राम कुसुमखेड़ा एवं बम्हौरी में भी आगमन हुआ। इस दौरा स्थानीय ग्रामीणों ने यात्रा का पुष्प वर्षा कर स्वागत किया। इससे पूर्व जैत में मुख्यमंत्री ने उपस्थित अधिकारियों की बैठक लेकर नर्मदा सेवा यात्रा के ग्राम जैत आगमन के दौरान सफल कार्यक्रम आयोजन के लिये विभिन्न विभागीय अधिकारियों व कर्मचारियों द्वारा की गई व्यवस्थाओं की सराहना की। उन्होंने उपस्थित अधिकारियों से कहा कि भविष्य में भी नर्मदा सेवा यात्रा के प्रमुख उद्देश्यों को प्राप्त करने के लिये सभी अधिकारी-कर्मचारियों को सतत प्रयास करने होंगे। उन्होंने जैत सहित अन्य ग्रामों में नर्मदा सेवा यात्रा के सफल आयोजन के लिये जनप्रतिनिधियों व संतगण का आभार प्रकट किया।

Shares