मध्यप्रदेश में धूमधाम से मनाई जा रही रामनवमी

भोपाल। मध्यप्रदेश में बुधवार को रामनवमी का पर्व धूमधाम से मनाया जा रहा है। राजधानी भोपाल समेत प्रदेशभर में जगह-जगह जुलूस निकाले जा रहे हैं, वहीं मंदिरों में सुबह से श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ पड़ी है, जबकि लोग अपने-अपने घरों में भी भगवान श्रीराम की पूजा-अर्चना में जुटे हुए हैं। भए प्रगट कृपाला दीनदयाला कौशल्या हितकारी… के जयघोष से पूरा प्रदेश गुंजायमान नजर आ रहा है।

मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्रीराम की जयंती श्रीराम नवमी का पर्व प्रदेश भर में धूमधाम के साथ श्रद्धाभाव से मनाया जा रहा है। इस अवसर पर मंदिरों को आकर्षक तरीके से सजाया गया है, वहीं भगवान श्रीराम की प्रतिमाओं को मनोहारी रूप से श्रृंगार किया गया है। प्रदेशभर में इस अवसर पर अनेक धार्मिक कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है, जो कि देर रात तक चलेंगे। मंदिरों के साथ घरों में भी कार्यक्रम चल रहे हैं। बुधवार को नवरात्र का अंतिम दिन भी है, इसलिए घर-घर में कन्या भोज, भंडारे एवं हवन किए जा रहे हैं। इसके साथ ही प्रदेश में हजारों चल समारोह निकले जा रहे हैं।

चल समारोह को लेकर लोगों में खासा उत्साह है और उनमें श्रद्धालुओं की भीड़ जुटनी शुरू हो गई है। प्रदेशभर के राम मंदिरों में भगवान राम का जन्मोत्सव मनाने के साथ ही भए प्रगट कृपाला, दीन दयाला के जयघोष गुंजयमान हो रहे हैं। चल समारोहों को लेकर प्रशासन ने भी जोरदार तैयारियां कर रखीं हैं। गौरतलब है कि पिछले कुछ सालों से श्रीराम नवमी पर्व ऐतिहासिक स्तर पर मनाया जाता है। बुधवार को ही नौ दिन से चल रहे नवरात्रि पर्व का समापन भी है।

बुधवार को श्रीराम नवमी के साथ दुर्गा नवमी का पर्व भी मनाया जा रहा है। इसके साथ ही नवरात्र पर्व का समापन हो जाएगा। इस मौके पर कन्या भोज के साथ हवन एवं भंडारे का आयोजन किया गया है, वहीं देर रात तक धार्मिक कार्यक्रम आयोजित होंगे। मंगलवार को भी अष्टमी के पर्व पर माँ दुर्गा की विशेष पूजा अर्चना कर कन्याओं को भोज कराया गया। इस मौके पर कन्याएं पूजीं गईं। हवन, कीर्तन का दौर भी दिनभर चलता रहा। बुधवार को भी घर-घर में यही नजारा देखने को मिल रहा है, सुबह से लोग कन्याओं की तलाश कर रहे हैं, ताकि कन्याभोज कराकर अपने नवरात्र के व्रत खोल सकें।

,
Shares