मध्यप्रदेश के 40 जिलों में फिर से भारी बारिश की चेतावनी

भोपाल. मध्यप्रदेश में कई स्थानों पर लगातार हो रही बारिश के कारण नर्मदा, ताप्ती, बेतवा और शिवना नदियों सहित अनेक बरसाती नालों में उफान के चलते सामान्य जनजीवन प्रभावित हुआ है। मौसम विभाग ने अगले 24 घंटों में भी 40 जिलों में कहीं-कहीं भारी तो कहीं अति भारी बारिश की चेतावनी दी है। विभाग ने 16 एवं 17 अगस्त से बारिश की गतिविधियों में कमी आने की संभावना जताई है।

राजधानी भोपाल में बुधवार को सुबह से बारिश की झड़ी लगी जो दोपहर बाद तक जारी रही। यहां 20.4 मिमी वर्षा हुई। कल रात 13.9 मिमी पानी बरसा। भोपाल में एक जून से अब तक 1014.9 मिमी बारिश हुई है, जो सामान्य से 317.7 मिमी ज्यादा है। बेतवा नदी के उफान पर आने से बुधवार को अशोकनगर जिले के चंदेरी तहसील में स्थित राजघाट बांध के 18 में से 16 गेट खोल दिए गए हैं। इससे मप्र के चंदेरी और उप्र के ललितपुर के बीच बना पुल डूबने से दोनों प्रदेशों में बना सड़क संपर्क टूट गया है।

40 जिलों में भारी बारिश की चेतावनी 

मौसम विभाग ने अगले चौबीस घंटों के दौरान प्रदेश में 40 जिलों में कहीं कहीं भारी बारिश होने की चेतावनी दी है। इन जिलों में भोपाल, रायसेन, राजगढ़ विदिशा, सीहोर, होशंगाबाद, बैतूल, हरदा, नीचम, मंदसौर, रतलाम, उज्जैन, आगर, शाजापुर, देवास, गुना, शिवपुरी, अशोकनगर, श्योपुर, इंदौर, धार, खंडवा, छतरपुर, सागर, दमोह, टीकमगढ, छिंदवाड़ा, जबलपुर, कटनी, नरसिंहपुर, सिवनी, मंडला, उमरिया, अनूपपुर, डिंडोरी, सतना, ग्वालियर, दतिया, भिंड और मुरैना जिलों में कुछ स्थानों पर भारी तथा कहीं कहीं अति भारी बारिश हो सकती है।

सागर जिले राहतगढ़ में 6 इंच बारिश

मौसम विज्ञान भोपाल केन्द्र के वरिष्ठ वैज्ञानिक पीके साहा ने बताया कि सुबह साढे आठ बजे से शाम साढे पांच बजे तक राजधानी भोपाल सहित अनेक स्थानों पर वर्षा हुई है। जिसमें जबलपुर में 60 मिमी, मंडला में 54 मिमी, ग्वालियर में 33.8 मिमी, शाजापुर में 33 मिमी, बैतूल में 37 मिमी, इंदौर मं 28.5 मिमी, टीकमगढ और उमरिया में 25 मिमी वर्षा हुई है। सागर जिले में राहतगढ़ क्षेत्र में पिछले 24 घंटों के दौरान 6 इंच से अधिक बारिश दर्ज की गयी। दमोह में 83 मिमी, नरसिंहपुर में 82 मिमी, दमोह में 83 मिमी, गुना में 62.4 मिमी, जबलपुर में 62 मिमी, खजुराहो में 51 मिमी, सीधी में 47़ 8 मिमी, शाजापुर में 46 मिमी तथा उज्जैन में 39 मिमी बारिश दर्ज की गई।

रीवा और सतना में जमकर बरसे बादल

उन्होंने बताया कि छत्तीसगढ़ पर भी कम दबाव का क्षेत्र बन गया है तथा द्रोणिका (मानसून ट्रफ) शिवपुरी एवं सतना से होकर गुजर रही है। पिछले चौबीस घंटों के दौरान नरिसंहपुर जिले की गोटेगांव तहसील में 164 मिमी पानी बरसा है। रीवा में 156 मिमी, गंजबसाेदा एवं सतना में 116.6 मिमी, विदिशा में 110 मिमी, उज्जैन जिले के तराना में 100 मिमी तथा रीवा जिले के गुढ़ में 100 मिमी वर्षा हुई है।

गांधी सागर बांध फुल टैंक लेवल के करीब पहुंचा 

मंदसौर शहर एवं जिले में भारी बारिश तथा गांधीसागर बांध के जलग्रहण के अन्य क्षेत्रों में मूसलाधार वर्षा केक चलते चंबल नदी पर बने सबसे बड़े बांध गांधीसागर का जलस्तर आज 1294 फीट तक पहुंच गया है। इसकी पूर्ण भराव क्षमता 1312 फीट है।

,
Shares