भोपालः सनसनीखेज हत्याकाण्ड का पुलिस ने 24 घण्टे में किया पर्दाफाश, मृतिका का पति ही निकला हत्यारा

 

 

 

भोपालः दिनाँँकः- 18 मई 2018 -दिनांक 17ध्05ध्18 को सूचक मो. आसिफ पिता मो. साबिर उम्र 24 साल निवासी 1 बी प्रगति नगर अशोका गार्डन भोपाल ने सूचना दिया कि दिनांक 13ध्05ध्18 को मैं भाई सारिक तथा भाभी किश्वर अम्मी नूरजहां तथा अब्बा साबिर को मुम्बई छोड़ने गये थे । अम्मी तथा अब्बू साउदी अरब गये है । कल दिनांक 16ध्05ध्18 को सुबह वापस भोपाल हम तीनो आये है । आज सुबह करीब 10ण्00 बजे मैं नीचे आया तो हमारे खाली वाले कमरे से बहुत बदबू आ रही थी । किराये के दोनो कमरो में ताला लगा था । मैंने खाली वाले कमरे के अंदर वाला कमरा जाकर देखा तो कमरे के फर्श पर एक महिला की लाश नग्न अवस्था में पड़ी थी जो पहचान में नहीं आ रही थी । मैंने पुलिस को सूचना दी तो पुलिस मौके पर पहुंची । मेरी बहन यासमीन ने लाश के पास पड़े कपडे व हुलिया देखकर लाश राजाराम मेवाड़ा की पत्नि मृतिका की होना बताया । करीब दो दिन पहले भी राजाराम मेवाडा ने मृतिका के साथ मारपीट की थी जिन्हे यासमीन तथा मोहल्ले वाले ने समझाया था उस दिन के बाद से कमरे में ताला लगा है । मृतिका के सिर पर किसी भारी चीज से चोट पहुंचा कर हत्या की गई है । मुझे पूरा संदेह है कि राजाराम मेवाड़ा ने ही अपनी पत्नि की हत्या की है तथा फरार हो गया है जिस पर अपण् क्रण् 312ध्18 धारा 302 भादवि का अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया ।
वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा तत्काल घटना स्थल पर पहुंचकर घटना स्थल का निरीक्षण किया एवं आरोपी की गिरफतारी हेतु आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।
उक्त निर्देषों के पालन में घटना स्थल के पास मृतिका के घर से उसके पति के आधार कार्ड से उसका फोटो लेकर थाने की चार्ली एफआरव्ही टीम के जरिये प्रभात पेट्रोल पम्प कलारी के पास आरोपी को पकड़ा गया पूछताछ पर उसने अपना जुर्म कबूल किया पत्नि के चरित्र पर शंका के कारण घटना घटित करना पाया गया मकान मालिक के लड़की और लड़को द्वारा दिनांक 14.15ध्05ध्18 की रात्री को शराब पीकर मारपीट करने की बात बताई । शराब एवं अय्याश किस्म का व्यक्ति है पूर्व रिकार्ड में भाई मुकेश मेवाड़ा से जनवरी में पाया कि आरोपी की पूर्व में तीन पत्नियां थी धापू बाईए दिपिका एवं विषकुमारी जिसमें विष कुमारी की मृत्यु हो गईए धापू बाई दीपिका उसे छोड़कर चली गई । इन तीनो से भी शराब के नशे में अत्याधिक मारपीट करता था । मारपीट में वहशी रूप धारण कर लेता था घर वालो द्वारा कोई उपरी चक्कर होने के कराण जादूटोना का इलाज करवाया था । करीबन 09 वर्ष से भाई वगैरह को छोड़कर भोपाल आ गया है तब से भाई मां पिता से कोई संबंध नहीं है । 8 वर्ष पूर्व प्रेम लोधी की पत्नि मृतिका उसके चार बच्चो को पति के पास छोड़कर इसके साथ आकर भोपाल रहने लगी थी दोनो शराब पीने के शौकिन है । इसकी के मकान के बगल के कमरे में बबलू लोधी नाम का व्यक्ति रहता था । पूछताछ पर आरोपी द्वारा बताया गया कि उसने पत्नि मृतिका को बबलू से बात करने के लिये मना किया था । घटना के दिन रात को बबलू से बात करते देखने पर गुस्सा और पत्थर हथौडा मारकर उसकी हत्या कर खाली कमरे में पटक दिया । घटना के दिन से बबलू लोधी निण् ललितपुर उ.प्र का फरार है जिसकी तलाश की जा रही है ।
गिरफ्तार आरोपी
राजाराम मेवाडा पिता करण सिंह मेवाडा उम्र 45 साल निण् गोलूखेड़ी थाना इच्छावर जिला सीहोर

सम्पूर्ण कार्यवाही में वरिष्ठ अधिकारियों के मार्गदर्शन में थाना अशोका गार्डन पुलिस टीम थाना प्रभारी सुनील श्रीवास्तव उनि अतुल दीक्षित उनि अनूप कुमार उईकेए उनि आरपी सिंह आरण् श्रीकृष्ण कटारिया, चार्लीए एफआरव्ही हमराह स्टाफ द्वारा तत्परता से त्वरित कार्यवाही कर हत्या का खुलासा किया गया ।

,
Shares