भाजपा नेता की दुकान पर इनकम टैक्स का छापा

पन्ना, 10 मार्च । आयकर विभाग ने अमानगंज के स्थानीय दिग्गज भाजपा नेता शारदा प्रसाद लंहगेर की दुकान पर छापामार कार्यवाही करते हुये रिकार्ड का निरीक्षण किया। जानकारी के अनुसार आयकर विभाग की टीम ने गुरुवार शाम को जिले के अमानगंज कस्बा में स्थित जय मां मरही देवी ट्रेडिंग कंपनी की कीटनाशक दवा दुकान में दबिश देकर कई घंटे तक दस्तावेजों की छानबीन की गई। सप्ताहभर के अंदर जिले में आयकर विभाग की दूसरी बड़ी कार्रवाई की खबर आते ही कालेधन के कुबेर और बड़े कारोबारिया में खलबली मच गई। बताया गया है कि नोटबंदी के दौरान मां मरही ट्रेडिंग कंपनी अमानगंज के खाते में बड़ी रकम जमा कराई गई थी इसकी जानकारी संबंधित बैंक के द्वारा आईटी डिपार्टमेण्ट को भेजी गई है। इसी के तहत अमानगंज में आयकर विभाग के संयुक्त आयुक्त ओपी पाठक के नेतृत्व में पांच सदस्यीय टीम ने आज मां मरही ट्रेडिंग कंपनी की कीटनाशक तथा बीज दुकान में दबिश दी गई। फर्म के तथा संचालक के बैंक खातों, दुकान की सैल और स्टॉक आदि से संबंधित दस्तावेजों की जांच-पड़ताल चल रही थी। साथ ही खातों में जमा राशि के स्त्रोत को लेकर संबंधितों से पूछताछ की गई। लगेगी 50 प्रतिशत पैनाल्टी:- संयुक्त आयकर आयुक्त ने जानकारी देते हुए बताया कि फर्म संचालक यदि जमा राशि का सही स्त्रोत बताने में असमर्थ रहता है तो उक्त राशि को कालाधन घोषित कर उसकी 50 प्रतिशत राशि टैक्स, पैनाल्टी तथा सरचार्ज के रूप में जब्त कर ली जायेगी। 25 प्रतिशत राशि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना अंतर्गत बैंक में जमा होगी। जिस पर किसी तरह का कोई ब्याज नहीं दिया जायेगा। शेष 25 प्रतिशत राशि संबंधित को लौटा दी जायेगी। जिन खातों में नोटबंदी के दौरान एक सीमा से अधिक राशि जमा हुई है उन सभी लोगों से पूछताछ की जाएगी। अमानगंज की कार्रवाई में राजेश पाण्डेय आयकर अधिकारी सतना, शंभूलाल करण निरीक्षक, पीके चतुर्वेदी, शिवानंद सिंह कर सहायक शामिल रहे। 

Shares