प्रॉपर्टी ब्रोकर ने इवेंट मैनेजर से कार में किया रेप, पीटा भी, युवती ने कहा- महिला थाने में केस दर्ज नहीं किया

इंदौर. इवेंट मैनेजर युवती को प्रॉपर्टी ब्रोकर युवक ने जबर्दस्ती कार में बैठाकर 6 घंटे तक बंधक बनाए रखा। उसे बेल्ट से पीटा, फिर बायपास पर जान से मारने की धमकी देकर ज्यादती की। युवती जैसे-तैसे भागी और महिला थाने पहुंची, लेकिन स्टाफ ने उसे मारपीट की रिपोर्ट नहीं लिखने का बोलकर लौटा दिया।

बाद में युवती खुद मेडिकल करवाने एमवायएच गई, फिर मेडिकल रिपोर्ट लेकर लसूड़िया थाने जाकर घटना बताई। इसके बाद पुलिस ने केस दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार किया।लसूड़िया टीआई संतोष दूधी ने बताया कि घटना विजय नगर में रहने वाली 21 वर्षीय युवती के साथ हुई। उसकी रिपोर्ट पर आरोपी विशाल भोजवानी (27) निवासी महालक्ष्मी नगर के खिलाफ दुष्कर्म का केस दर्ज किया है।

जबर्दस्ती कार में बैठाया, 6 घंटे तक की छेड़छाड़-ज्यादती :मैं इवेंट मैनेजर हूं, इसलिए विशाल भोजवानी ने मुझसे संपर्क बढ़ाए। कुछ समय बाद वह रिलेशनशिप बनाने के लिए कहने लगा तो मैंने मना कर दिया। शनिवार रात साढ़े 9 बजे विजय नगर इलाके में वह मुझसे आखिरी बार मिलने आया और मुझे कार में जबर्दस्ती बैठा लिया। फिर छेड़छाड़ करने लगा। बायपास पर पहुंची तो पीसीआर वैन देख मैंने फिर शोर मचाया तो पुलिस ने हमारा पीछा किया। लसूड़िया और खजराना थाने की पीसीआर भी पीछे लगी, लेकिन विशाल चकमा देकर मुझे नरीमन पॉइंट स्थित उसके फ्लैट पर ले गया। तड़के 4 बजे मैं जैसे-तैसे वहां से भागी। रविवार सुबह 10 बजे मैं महिला थाने पहुंची तो वहां एक जवान और दो महिला पुलिसकर्मी मिले। उन्हें घटना बताई तो रिपोर्ट नहीं लिखी, कहा- यहां सिर्फ दहेज प्रताड़ना की शिकायत दर्ज होती है। बाद में मैं खुद एमवाय पहुंची और मेडिकल करवाया फिर लसूड़िया थाने में जाकर रिपोर्ट की। -जैसा पीड़िता ने एफआईआर में लिखवाया

कार में पार्टी के बाद हुआ दोनों का विवाद : पुलिस

युवती कि शिकायत पर हमने आरोपी विशाल के खिलाफ दुष्कर्म और मारपीट का केस दर्ज किया है। उसे आरोपी ने कार में ही बेल्ट से पीटा है, जिसमें उसे चोट भी आई है। प्रारंभिक जांच में पता चला है कि युवती की उससे काफी समय से दोस्ती है। कार में पार्टी करने के बाद ही दोनों में विवाद हुआ और फिर युवती के साथ घटना हुई। आरोपी विशाल को उसके घर से गिरफ्तार कर लिया है। – संतोष दूधी, लसूड़िया टीआई

लापरवाही पर स्टाफ पर कार्रवाई होगी : युवती थाने आई थी, इसकी मुझे स्टाफ ने जानकारी नहीं दी। उसके साथ घटना हुई और थाने में सुनवाई नहीं की गई तो मैं स्टाफ पर कार्रवाई करूंगी। युवती ने थाने पर दुष्कर्म की बात नहीं कही होगी वरना उसे बिना कार्रवाई के जाने नहीं दिया जाता। – अनिता देयरवाल, महिला थाना प्रभारी

,
Shares