नागरिकता कानून:उप्र के 6 जिलों में धारा 144 लागू

नागरिकता कानून के विरोध में रविवार को दिल्ली की जामिया यूनिवर्सिटी में उग्र प्रदर्शन हुआ। प्रदर्शनकारियों ने 4 बसों समेत 8 वाहन फूंक दिए। इसके अलावा अलीगढ़, बनारस और बंगाल की जाधवपुर यूनिवर्सिटी में भी छात्रों ने प्रदर्शन किया। अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी (एएमयू) के छात्रों की पत्थरबाजी के बाद पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा। इसमें 60 से ज्यादा छात्र जख्मी हुए। आज अलीगढ़ शहर में रात 10 बजे तक इंटरनेट बंद रहेगा। पश्चिमी उत्तर प्रदेश के 6 जिलों मेरठ, बुलंदशहर, कासगंज, बागपथ, सहारनपुर और बरेली में एहतियातन धारा 144 लागू की गई है।

एएमयू प्रशासन ने परीक्षा स्थगित करते हुए 5 जनवरी तक छुट्‌टी घोषित कर दी है। रजिस्ट्रार अब्दुल हमीद ने बताया कि छात्रों से रविवार देर रात हॉस्टल खाली कराए गए। उन्हें बस और ट्रेन से घर भेजने के इंतजाम किए गए। एडीजी पुलिस अजय आनंद ने बताया कि अलीगढ़ में स्थिति नियंत्रण में है। शहर में हर तरफ पुलिसकर्मी तैनात हैं। कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए जरूरी कदम उठाए जा रहे हैं।

 

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की। वहीं, दिल्ली में जामिया में हिंसा के बाद उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने सोमवार को ओखला, जामिया, न्यू फ्रेंड्स कॉलोनी और मदनपुर खादर इलाके के सभी स्कूल बंद रखने की घोषणा की। हिंसा के बाद दिल्ली में 14 मेट्रो स्टेशन बंद करने पड़े, जो सोमवार सुबह फिर शुरू कर दिए गए।

हिरासत में लिए गए जामिया के छात्रों को पुलिस ने छोड़ा

जामिया के पास उपद्रवी भीड़ ने रविवार को 8 वाहन फूंक दिए और पथराव किया। पुलिस ने यूनिवर्सिटी में प्रदर्शनकारियों पर लाठीचार्ज किया और आंसू गैस के गोले छोड़े। छात्र संघ का दावा है कि 100 छात्र घायल हुए और एक की जान भी गई है। हालांकि इसकी पुष्टि नहीं हुई। पुलिस ने विश्वविद्यालय में घुसकर छात्रों को हिरासत में लिया। इसके विरोध में छात्रों ने दिल्ली पुलिस हेडक्वार्टर पहुंचकर घेराव किया। छात्रों के विरोध के देखते हुए दिल्ली पुलिस ने हिरासत में लिए गए सभी छात्रों को रिहा कर दिया है।

‘जामिया के छात्रों ने नहीं, पड़ोस की कॉलोनी के लोगों ने प्रदर्शन किया’
यूनिवर्सिटी की कुलपति नजमा अख्तर ने कहा कि बंद का आह्वान यूनिवर्सिटी के छात्रों ने नहीं, बल्कि पड़ोस की एक कॉलोनी के लोगों ने किया था। उन्होंने कहा कि पुलिस जब यूनिवर्सिटी का गेट तोड़कर अंदर घुसी थी, उसके बाद छात्रों की उसके साथ झड़प हुई थी।

,
Shares