चित्रकूट उपचुनाव के लिए 65 प्रतिशत मतदान , कई जगह बहिष्कार

सतना। चित्रकूट विधानसभा उपचुनाव के लिए करीब 65 प्रतिशत मतदान हुआ है। कई केंद्रों पर अभी भी मतदाताओं की कतार देखी जा रही है।

गुरुवार सुबह आठ बजे से मतदान शुरु हुआ था। उधर मूलभूत सुविधाओं को लेकर बिछियन पोलिंग बूथ 117 में लोगों ने मतदान का बहिष्कार कर दिया। कलेक्टर सहित अन्य अधिकारी मतदाताओं को समझाने की कोशिश में लगे रहे।

बैरहना मतदान केंद्र में ग्रामीणों ने किया मतदान का बहिष्कार कर दिया। ग्रामीणों के अनुसार सड़क और मूलभूत सुविधाएं न होने के कारण किया यह बहिष्कार किया जा रहा है। यहां पहले से मतदान के बहिष्कार की घोषणा की गई थी, मौके पर पहुंचे अधिकारी मतदाताओं को मनाने की कोशिश नाकाम रही।

चित्रकूट विधानसभा उपचुनाव में मुकाबला 12 उम्मीदवारों के बीच है। एक लाख 98 हजार 122 मतदाता अपना प्रतिनिधि चुनने के लिए अधिकार का इस्तेमाल करेंगे। सुरक्षा के मद्देनजर सभी 257 मतदान केंद्रों पर केंद्रीय अर्द्धसैनिक बलों के साथ सशस्त्र सुरक्षा बल और पुलिस के जवान तैनात किए गए हैं।

मझगवां के मतदान केंद्र 92,94 में तकनीकी खराबी की वजह से मतदान में समस्या आई, यहां 8:30 बजे मतदान शुरू हो सका। मतदान केंद्रों पर सुबह से ही मतदाताओं की लंबी लाइन लगी है। मझगवां के अहिरान टोला कि चार महिला मतदाताओं को पुलिस वाहन में बैठा कर मतदान केंद्र तक पहुंचाया गया।

बरौंधा पोलिंग में तकनीकी खराबी के कारण मतदान में समस्या आई। बिरसिंहपुर में मतदान शांतिपूर्ण ढंग से चल रहा है। मतदान केंद्र 86,87 में मशीना में आई समस्या को सेक्टर अधिकारी ने ठीक करवाया।

जानकीकुंड में आदर्श मतदान केंद्र में मतदाताओं का विशेष तौर पर स्वागत किया गया। नए मतदाता, महिलाओं, बुजुर्गों, दिव्यांगों का खास ख्याल रखा गया।

 

तराई क्षेत्र में विशेष सुरक्षा बरती गई। कलेक्टर मुकेश शुक्ल, पुलिस अधीक्षक राजेश हिंगणकर, सीएसपी सहित दर्जनभर अधिकारी यहां के इलाकों में पहुंचे।

 

मतदान से पहले उम्मीदवारों के अधिकृत अभिकर्ताओं की मौजूदगी में मॉकपोल हुआ। इसके बाद मतदान शुरू किया गया। चुनाव में वीवीपैट (वोटर वैरीफायबल पेपर ऑडिट ट्रेल) का उपयोग किया गया है। इसमें मतदान के ठीक बाद एक पर्ची निकली, जिससे मतदाता यह जान सकेंगे कि उन्होंने जिसे मतदान किया है, उनका मत उसे ही गया है। मतदान शाम पांच बजे तक हुआ। उपचुनाव की मतगणना रविवार 12 नवंबर को होगी।

चित्रकूट की ग्राम पंचायत शाहपुर के मतदान केंद्र ताली में एक 93 वर्षीय बुजुर्ग साधु प्रसाद त्रिपाठी को उनके परिजन खटिया पर लेटाकर मतदान केंद्र पहुंचे। जिसके बाद साधु प्रसाद ने वोट डाला। मतदान केंद्र पर सभी बुजुर्ग के इस जज्बे को सलाम कर रहे थे।

Shares