आयकर की टीम के निशाने पर रहा नागरिक बैंक

बैतूल, 07 मार्च । देश में नोटबंदी के ऐलान के बाद नागरिक बैंक में खोले गए खातों से बड़ी मात्रा में लेनदेन करने की सूचना मिलने पर आयकर विभाग की टीम के अफसर ज्वेलर्स पर पहुंचने के साथ-साथ नागरिक बैंक भी पहुंचे और यहां से दो संदिग्ध खातों के दस्तावेज अपने साथ ले गए हैं। इन दोनों खातों में बड़ी मात्रा में रुपयों का लेनदेन किया गया था। प्राप्त जानकारी के अनुसार नोट बंदी के बाद खोले गए इन खातों से बड़ी मात्रा में रकम भी ट्रांसफर की गई है ऐसी चर्चा है। इसकी जानकारी आयकर विभाग के अफसरों को होने पर उन्होंने नागरिक बैंक पहुंचकर दोनों खातों के दस्तावेज खंगाले और कुछ दस्तावेज अपने साथ भी ले गए हैं। इतना ही नहीं आयकर विभाग की टीम ने बैंक के दो संदिग्ध खातों को विशेष रूप से जांच में लेकर खाता धारकों के मोबाइल पर संपर्क कर जमा की गई राशि के संबंध में पूछताछ की। टीम ने इन दोनों ही खाता धारकों को आयकर विभाग के भोपाल कार्यालय तलब भी किया है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार नागरिक बैंक के जिन दो संदिग्ध खातों की विशेष रूप से पड़ताल की गई है उनमें 25 लाख रुपये की रकम जमा की गई थी और उसे इंदौर के अन्य खातों में ट्रांसफर किया गया है। जानकारों की मानें तो आरबीआई ने सभी बैंकों से नोटबंदी के दौरान खुले खातों और पुराने खातों में ट्रांजेक्शन की डिटेल से संबंधित पूरी जानकारी मांगी थी। इसी जानकारी की हकीकत की पड़ताल अब आयकर विभाग कर रहा है। सभी बैंकों के खातों में संदिग्ध ट्रांजेक्शन एवं संदिग्ध खातों को आयकर विभाग अपनी निगरानी में रखकर जांच पड़ताल कर रहा है।

Shares