आज मैंने आत्मिक शांति एवं नई ऊर्जा महसूस की: शिवराज

नेमावर, 19 मार्च । धर्मगुरु दलाई लामा विश्व के महान धर्म गुरु एवं आध्यात्मिक व्यक्ति हैं। उनके स्पर्श से आज मैंने आत्मिक शांति एवं नई ऊर्जा महसूस की है। उक्‍त बातें धर्मगुरू दलाई लामा के देवास जिले के नेमावर के समीप तुरनाल ग्राम में नर्मदा सेवा यात्रा कार्यक्रम में भाग लेकर यात्रा को अपना आर्शीवाद देने पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहीं। इस अवसर स्कूल शिक्षा राज्य मंत्री दीपक जोशी, स्थानीय विधायक, जन-प्रतिनिधि, विभिन्न धर्म एवं संप्रदायों के संत, अधिकारीगण उपस्थित थे। मुख्‍यमंत्री ने कहा कि नदी संरक्षण के क्षेत्र में नर्मदा सेवा यात्रा दुनिया की अद्भुत यात्रा बन गई है। इस यात्रा में जनता का उत्साह देखने लायक है। नर्मदा हमारी जीवन रेखा है, नर्मदा नहीं तो प्रदेश नहीं, प्रदेश नहीं तो हम नहीं। प्रदेश की लाखों हेक्टेयर भूमि पर नर्मदा से सिंचाई होती है। नर्मदा के जल को संरक्षित एवं स्वच्छ बनाने के साथ-साथ इसके आसपास पर्यटन की गतिविधियों को विकसित किया जाएगा। दोनों तटों पर एक किलोमीटर दूर तक पेड़ लगाए जाएंगे चौहान ने बताया कि नर्मदा तट के दोनों ओर 1 किलोमीटर की दूरी तक फलदार पेड़ लगाए जाने की योजना है। वृक्षारोपण शासकीय एवं निजी दोनों भूमियों पर किया जाएगा। निजी भूमि पर वृक्षारोपण करने पर किसान को 20000 रूपये प्रति हेक्टेयर मुआवजा तथा 40 प्रतिशत अनुदान मिलेगा। इसकी मजदूरी शासन की मनरेगा योजना से दी जाएगी। इससे एक ओर नदी की धार बढ़ेगी तो दूसरी और किसानों की आय बढ़ेगी। 2 जुलाई को एक साथ लगेंगे करोड़ो पेड़ मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में आगामी 2 जुलाई को एक दिन में करोड़ो पेडा के तट पर लगाए जाएंगे। उन्होंने सभी से आह्वान किया कि वे नर्मदा सेवक के रूप में इस अभियान में अपनी सक्रिय भागीदारी निभाए। चौहान का यह भी कहना था कि नर्मदा नदी में एक भी बूँद गंदा पानी नहीं मिलने दिया जाएगा। गंदे पानी को पाइप लाइन द्वारा दूसरी तरफ ले जाकर स्वच्छ किया जाएगा तथा इसके बाद किसानों के खेतों में डाला जाएगा। उन्होंने कहा कि पूजन की ऐसी पद्धति बनाई जाए जिससे कि नदी में गंदगी न हो। पूजन सामग्री को पूजन कुण्ड में ही डाला जाए। यह भी कहा मुख्य मंत्री ने नदियों के घाटों पर पर्याप्त संख्या में चेंजिंग रूम्स बनवाए जाएंगे। नर्मदा तट पर कई मोक्ष धाम बनाए जाएंगे। बेटियों से दुराचार करने वाले को फाँसी दिए जाने का कानून बनना चाहिए। 1 अप्रैल से नर्मदा के किनारे 5-5 किलोमीटर तक शराब दुकानें बंद कर दी जाएंगी। धीरे धीरे पूरे मध्य प्रदेश में नशाबंदी लागू होगी। 12वीं में 75% अंक लाने पर प्रोफेशनल शिक्षण संस्थान में उच्च शिक्षा की फीस सरकार भरेगी। सरकारी डॉक्टर को शुरू में 3 साल गाँवों में सेवा देनी होगी। किसान नरवाई न जलाएं। रोटावेटर का इस्तेमाल कर भूसा बनाए तथा जमीन को उपजाऊ बनाए। बोधि वृक्ष रोपा कार्यक्रम के प्रारम्भ में दलाई लामा ने बोधि अर्थात पीपल का पौधा तथा मुख्यमंत्री ने बरगद का पौधा रोपा। शुरूआत कन्या-पूजन एवं नर्मदा जल कलश पूजन से हुई। इसके पहले दलाई लामा की ग्राम तुरनाल में सुबह हेलीपेड पर मुख्यमंत्री चौहान ने अगवानी की।

Shares